हल्द्वानी में लापरवाही: कोरोना पॉजिटिव महिला सुशीला तिवारी अस्पताल से चुपचाप घर पहुंची

महिला के खिलाफ मुकदमा दर्ज कर सकती है पुलिस

उत्तराखंड में कोरोना वायरस का संक्रमण लगातार बढ़ता जा रहा है| शुक्रवार को कोरोना की वजह से कुल 7 लोगों की मौत हो गई। इनमें से चार की मौत एम्स ऋषिकेश में हुई। नए मामलों की दर में भी तेजी आई है। परंतु इस सब के बीच ऐसे कई उदाहरण आ रहे हैं जहां लोग इस महामारी के दौरान समझदारी से काम नहीं ले रहे। ऐसा ही वाकया सुशीला तिवारी अस्पताल हल्द्वानी में सामने आया है।

काठगोदाम निवासी एक महिला का इलाज डी वार्ड में चल रहा था। 30 जुलाई को उनकी कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आई थी। उसके बाद से ही वह अस्पताल में भर्ती थी। सुबह डॉक्टर वार्ड में राउंड पर थे, इस वजह से वार्ड का दरवाजा खुला था। मौका देखकर महिला चुपचाप अस्पताल से बाहर निकल गई। महिला के भागने का पता जब सुशीला तिवारी अस्पताल प्रशासन को चला तो उन्होंने इसकी जानकारी तत्काल पुलिस को दी। और उसके बाद महिला की खोजबीन की गई। थोड़ी देर बाद पता चला कि महिला अपने घर पहुंच गई है।

यह भी पढ़ें: देश में कोरोना वायरस संक्रमण के मामले पहुंचे 20 लाख के पार, पढ़िए अब तक का सार

महिला बहुत परेशान थी

पुलिस टीम अपने साथ मेडिकल स्टाफ को लेकर काठगोदाम के गंगा नगर स्थित उनके आवास पर पहुंची। टीम ने महिला को समझाया जिसके बाद महिला मेडिकल टीम के साथ वापस अस्पताल आ गई। बताया जा रहा है कि अस्पताल के इस वार्ड में भर्ती होने के बाद से ही महिला बहुत परेशान थी। प्रदेश के नैनीताल जिले में भी कोरोना के नए मामले सामने आ रहे हैं। हल्द्वानी में प्रशासन ने कोरोना से लड़ने के लिए 9 नए कंटेनमेंट जोन बनाए हैं। कंटेनमेंट जोन के अंदर जब तक सब की जांच नहीं होती उनके बाहर निकलने पर पाबंदी रहती है। स्क्रीनिंग होने तक जरूरी सामग्री घर तक पहुंचाई जाती है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now