हल्द्वानी: नीलकंठ हॉस्पिटल में कोरोना संक्रमित की मौत,ओपीडी और इमरजेंसी सेवा बंद

हल्द्वानी: नीलकंठ हॉस्पिटल में कोरोना संक्रमित की मौत,ओपीडी और इमरजेंसी सेवा बंद

हल्द्वानी: कोरोना संक्रमित एक बुजुर्ग की शहर के नीलकंठ हॉस्पिटल में मौत हो गई। इस घटना ने स्वास्थ्य विभाग की सांसे फूला दी है। मरीज हॉस्पिटल में किसी अन्य बीमारी चलते भर्ती हुआ था। हॉस्पिटल ने जांच के लिए उसके सैंपल जांच के लिए भेजे थे। देर रात जब रिपोर्ट पॉजिटिव आई तो मरीज की हालात नाजुक थी। डॉक्टरों ने मरीज को आईसीयू में भर्ती किया लेकिन रविवार को उसकी मौत हो गई। मामले की गंभीरता को देखते हुए हॉस्पिटल की ओपीडी और इमरजेंसी सेवा बंद कर दी गई है। किसी भी निजी अस्पताल में कोरोना मरीज की मौत का यह पहला मामला है। 

खबर के अनुसार बुजुर्ग (65 वर्षीय) हल्द्वानी के बनभूलपुरा निवासी थे। शुक्रवार को पेट और छाती में तकलीफ के चलते उन्हें निलकंठ हॉस्पिटल में भर्ती कराया गया था। कुछ घंटों के बाद ही उनकी तबीयत खराब होने लगी। डॉक्टर ने जांच करने के साथ ही मरीज को तत्काल आइसीयू में भर्ती कर दिया। इसके बाद कोरोना जांच के लिए सैंपल भी भिजवा दिया गया। शनिवार रात को रिपोर्ट पॉजिटिव आई। उन्हें वैंटीलेटर पर रखा गया था।

अस्पताल प्रबंधन ने सूचना सीएमओ कार्यालय में दे दी थी। सीएमओ ने बताया भारती राणा  कि अस्पताल में दम तोड़ने वाले मरीज में कोरोना वायरस की पुष्टि हुई थी। अस्पताल के डॉक्टर और स्टाफ क्वारंटाइन किए जा रहे हैं। मरीज की कोई ट्रैवल हिस्ट्री नहीं है। ऐसे में बुजुर्ग कोरोना संक्रमित कैसे हुआ, इसकी जांच करवाई जा रही है। स्वास्थ्य विभाग की टीम संबंधित क्षेत्र में कांटेक्ट ट्रेसिंग कर पता कर रही है। मरीज की मौत के बाद ही अस्पताल में ओपीडी और इमरजेंसी सेवा बंद हो गई है। सीएमओ ने कहा कि फिलहाल तीन दिन तक सभी सेवाएं बंद रहेंगी। सभी के सैंपल लिए जाएंगे।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now