हल्द्वानी में बारिश और नैनीताल में बर्फबारी, इन जिलों में स्कूल बंद

हल्द्वानी: गुरुवार को पश्चिमी विक्षोभ सक्रिय होने के कारण मौसम ने करवट ली। उत्तराखण्ड के कई पहाड़ी क्षेत्रों में सीजन की पहली बर्फ भी गिर गई। मौसम विभाग ने पहले ही इस सप्ताह बर्फबारी होने बात कही थी। गुरुवार को यह सच भी हुआ। जबकि मैदानी क्षेत्र हल्द्वानी में भी बारिश हुई। गुरुवार सुबह से हल्की-हल्की बारिश होने का सिलसिला जारी है। कुमांऊ में नैनीताल के अलावा बागेश्वर, पिथौरागढ़, समेत पहाड़ी जिलों से लगीं हिमालयी चोटियां और गांव बर्फ से ढक गए हैं। लगातार हो रहे हिमपात को देखकर अनुमान लगाया जा रहा है कि भारी संख्या में पर्यटक पहुंच सकते हैं और इससे व्यापारी भी काफी उत्साहित हैं।

वैसे तो नैनीताल में हिमपात दिसंबर के तीसरे हफ्ते होता है। मौसम विभाग के अनुसार पश्चिमी विक्षोभ की सक्रियता के चलते मौसम ठंडा होने लगा है। गुरुवार को नैनीताल जिले के अधिकांश इलाकों में बादल छाए रहे। हिमालय से आ रही ठंडी हवाओं से हल्द्वानी का अधिकतम तापमान तीन डिग्री गिरा और 20.5 डिग्री सेल्सियस पर आ गया।

वहीं गुरुवार को हल्द्वानी का न्यूनतम तापमान 11.4 डिग्री दर्ज किया गया। वहीं शुक्रवार सुबह भी ठंड से लोगों को राहत नहीं मिली। मुक्तेश्वर की बात करें तो गुरुवार का अधिकतम व न्यूनतम क्रमश: 7.2 डिग्री व 3.8 डिग्री देहरादून मौसम विज्ञान केंद्र के निदेशक बिक्रम सिंह का कहना है कि हिमपात के कारण तापमान में गिरावट होगी,हालांकि शनिवार से धूप भी खिल सकती है।

मौसम विभाग की चेतावनी के चलते देहरादून, रुद्रप्रयाग, उत्तरकाशी, टिहरी, पिथौरागढ़ और चमोली जिला प्रशासन ने शुक्रवार को सभी प्राइवेट और सरकारी स्कूलों को बंद रखने के आदेश दिए हैं।