हल्द्वानी की वायरोलॉजी लैब में 11 सितंबर तक नहीं होगी कोरोना जांच

हल्द्वानी: राजकीय मेडिकल कॉलेज की वायरोलॉजी लैब का टेक्निशियन बुधवार को कोरोना संक्रमित पाया गया है। इसके बाद लैब को सील कर दिया गया है। यानी 11 सितंबर तक कोरोना वायरस के सैंपलों की जांच नहीं हो पाएगी। राजकीय मेडिकल कॉलेज के प्राचार्य डॉ.सीपी भैसौड़ा ने नैनीताल, ऊधमसिंह नगर, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, बागेश्वर और चम्पावत के मुख्य चिकित्सा अधिकारियों को भेजे पत्र कर सूचित कर दिया है कि वायरोलॉजी लैब के एक लैब टेक्निशियन कोरोना संक्रमित हुआ है। जिस कारण लैब के समस्त स्टॉफ की कोरोना जांच की जाएगी और लैब को सील कर दिया गया है। लैब में जांच नहीं होगी। उन्होंने सीएमओ से कहा है कि 9 सितंबर से 11 सितंबर तक कोई भी सैंपल लैब में न भेजा जा जाए। बता दें कि लैब में ऊधमसिंह नगर, अल्मोड़ा, पिथौरागढ़, बागेश्वर और चम्पावत के सैंपल लाए जाते हैं।

लैब टेक्निशियन के कोरोना संक्रमित पाए जाने के बाद पूरे स्टॉफ का कोरोना टेस्ट हो रहा है। लैब में 25 लोगों का स्टाफ है। लैब को बंद करने से पहले कुमाऊं क्षेत्र में पेडिंग सैंपल (1500) की जांच की गई। हल्द्वानी में लैंब के बंद होने के बाद जांच का भार मुक्तेश्वर और निजी लैब में आ गया है। एहतियात के तौर पर लैब को फ्यूमिगेट (संक्रमण रहित) बनाने के लिए इसे गुरुवार और शुक्रवार को बंद रखा जाएगा। 

बुधवार को उत्तराखंड में 1061 कोरोना वायरस के मामले सामने आए हैं। इसके साथ ही राज्य में कोरोना वायरस के आंकड़े 27211 हो गया है जिसमें से 18262 मरीजों ने कोरोना वायरस को हराया है। बुधवार को 789 मरीजों को डिस्चार्ज किया गया। इसके अलावा 12 मरीजों की मौत भी हुई है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now