इंसानियत को सलाम, काम छोड़कर भवाली से हल्द्वानी पहुंचकर अधिवक्ता ने दान किया प्लाज्मा

हल्द्वानी: कोरोना काल में इंसानियत से बड़ा शायद ही कुछ हो। कोरोना वॉरियर्स की बात हर जगह होती है और होनी भी चाहिए। उनकी बदौलत ही तो लाखों लोगों ने कोरोना वायरस को मात देने में कामयाबी पाई है। इसके अलावा कई ऐसे लोग भी हैं जो लॉकडाउन के दौरान लोगों की मदद करने के दौरान कोरोना वायरस की चपेट में आ गए थे। उन्होंने कोरोना वायरस को हराया और फिर प्लाज्मा दान कर लोगों की जान बचाने की कोशिश भी की। इस तरह के तमाम लोग सामने आ चुके हैं।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में दो दिन की बुकिंग और रिपोर्ट अनिवार्य नहीं, पर्यटकों के लिए बड़ी खबर

प्लाज्मा दान के संबंध में एक मामला मंगलवार को सामने आया। हल्द्वानी सुशीला तिवारी में भर्ती एक मरीज को प्लाज़्मा की जरूरत थी और उन्हें वह उपलब्ध नहीं हो पा रहा था। ऐसे में यह जानकारी नैनीताल जिला बार अधिवक्ता शिवांशु जोशी ने भवाली से हल्द्वानी आकर प्लाज्मा दान किया। सबसे पहले एन्टी बॉडी टेस्ट भी किया गया।

बता दें कि पिछले छह दिनों से सुशीला तिवारी में भर्ती अल्मोड़ा निवासी 54 वर्षीय महिला जिन्हें गम्भीर स्थिति में डॉक्टर्स ने बेस अल्मोड़ा से सुशीला तिवारी रेफर किया था को ए पॉजिटिव प्लाज्मा की ज़रूरत थी। महिला के 25 वर्षीय पुत्र भी कोरोना पॉजिटिव होने के चलते सुशीला तिवारी हॉस्पिटल में ही भर्ती है।

जिसपर हल्द्वानी निवासी प्रतिभा बिष्ट ( हल्द्वानी ऑनलाइन 2011) व अस्पताल के डॉ मकरंद सिंह ने अधिवक्ता शिवांशु जोशी से प्लाज्मा दे महिला की मदद करने का आग्रह किया। महिला की गम्भीर स्थिति को देखते हुए मंगलवार को अधिवक्ता जोशी भवाली से तुरंत सुशीला तिवारी हॉस्पिटल पहुंचे और प्लाज़्मा दिया।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में दो दिन की बुकिंग और रिपोर्ट अनिवार्य नहीं, पर्यटकों के लिए बड़ी खबर

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now