बसों का रोड टैक्स/बीमा संचालन शुरू होने तक हो माफ, स्कूल प्रबंधकों ने दिया ज्ञापन

बसों का रोड टैक्स/बीमा संचालन शुरू होने तक हो माफ, स्कूल प्रबंधकों ने दिया ज्ञापन

हल्द्वानी: कोरोना वायरस के चलते लागू हुए लॉकडाउन ने सभी को आर्थिक रूप से चोट पहुंचाई है। इस लिस्ट में स्कूल व कॉलेज भी शामिल हैं। शुक्रवार को हल्द्वानी में देवभूमि उद्योग व्यापार मंडल के शिक्षा सेल ने एसडीएम को लॉकडाउन की अवधि से प्राइवेट स्कूलों की बसों का संचालन शुरू होने तक बसों का रोड टैक्स एवं बीमा माफ करने के लिए ज्ञापन परिवहन मंत्री उत्तराखंड को पहुंचाने हेतु दिया।

स्कूल प्रबंधकों का कहना है कि कोरोना वायरस के चलते स्कूल बंद हैं और बसों का संचालन नहीं हो रहा है। इस वजह से बसों का मेंटेनेंस निकालना मुश्किल हो रहा है। इसमें ड्राइवर, क्लिनर का वेतन बसों की किश्त आदि स्कूल को अपनी जेब से देना पड़ रहा है। बसों का संचालन नहीं हो रहा है इस वजह से अभिभावकों से भी स्कूल फीस नहीं ले रहे हैं। यह वक्त हर किसी के संघर्ष से भरा हुआ है।

हमारा सरकार ने अनुरोध है कि वह लॉकडाउन से बसों के संचालन के शुरू होने तक बसों का रोड टैक्स और बीमा को माफ कर दे। इसके अलावा परमिट और फिटनेस को लॉकडाउन अवधि के सापेक्ष में आगे बढ़ाया जाए तथा स्कूल बस के चालक और हेल्परों को आर्थिक सहायता प्रदान की जाए। उन्होंने लोन के संबंध में बैंक व फाइनेंस कंपनी द्वारा लोन किश्त जमा करने के हेतु परेशान किए जाने के संबंध में भी परिवहन मंत्री को जानकारी दी।

इस मौके पर देवभूमि उद्योग व्यापार मंडल के प्रदेश अध्यक्ष हुकुम सिंह कुंवर, प्रदेश संयोजक शिक्षा सेल विकल बवाड़ी, प्रदेश सह संयोजक शिक्षा सेल अभिषेक मित्तल, कुमाऊं संयोजक अनुराग मित्तल, कुमांऊ सह संयोजक राजेंद्र पांडे, जिला संयोजक चंदन रैकवाल और जिला सह संयोजक राजेंद्र पोखरया मौजूद थे।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now