दिल्ली में मनीष सिसोदिया की नींद उड़ाने वाले रवि नेगी का है हल्द्वानी से गहरा संबंध

हल्द्वानी: आम आदमी पार्टी ने दिल्ली में लगातार तीसरी बार सरकार बनाई है। दूसरी बार आप बहुमत के साथ सत्ता पर काबिज होगी। आप को दिल्ली विधानसभा चुनाव में 62 सीटे मिली है। वहीं भाजपा के खाते में 8 सीटे आई हैं। दिल्ली चुनाव में एक शख्स ऐसा भी है जो हार के बाद भी चर्चा में हैं। पटपड़गंज सीट से भाजपा के प्रत्याशी रवि नेगी ने आप के मनीष सिसोदिया को कड़ी टक्कर दी। अधिकतर मौकों पर नेगी सिसोदिया से आगे थे लेकिन आखिरी राउंड की मतगणना फाइनल होने पर उन्हें तीन हजार वोटों से हार का सामना करना पड़ा। जबकि पिछली बार सिसोदिया 25 हजार से ज्यादा मतों से जीते थे। बता दें कि रवि नेगी दिल्ली में भाजयुमो जिला उपाध्यक्ष पद पर रह चुके हैं। वर्तमान में वह विनोद नगर मंडल अध्यक्ष पर है। 

रवि नेगी मूल रूप से अल्मोड़ा के ग्राम सीमदाड़मी पट्टी जैंती सालम के निवासी है। उनके पिता प्रताप सिंह नेगी गृह मंत्रालय से सेवारत थे अब रिटायर हो चुके हैं। वहीं रवि के बड़े भाई हरीश नेगी हल्द्वानी देवलचौड़ बंदोबस्ती में रहते हैं। वह पेशे से कंस्ट्रक्शन कारोबार से जुड़े हैं। हरीश नेगी की ने बताया कि परिवार लंबे समय तक दिल्ली में रहता जरूर है लेकिन पहाड़ से नाता अभी भी बना हुआ है।

Source- दैनिक जागरण

शादी और अन्य निमंत्रण से लेकर पूजा-पाठ में भी घर के लोग जरूर शामिल होते हैं। उन्होंने कहा कि भाई चुनावी मैदान पर थे तो हल्द्वानी से कई लोग उनके प्रचार के लिए दिल्ली गए थे। इस लिस्ट में भाजपा नेता विक्रम सिंह नेगी, पार्षद राजेंद्र नेगी समेत देवलचौड़ से कई लोग शामिल हैं। साफ छवि की बदौलत ही रवि नेगी पर भाजपा ने भरोसा जताया था और उन्होंने शिक्षा मंत्री मनीश सिसोदिया को टक्कर दी।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now