कल हल्द्वानी आएंगी थाईलैंड की राजकुमारी, पद्मभूषण से हो चुकी हैं सम्मानित

हल्द्वानीः थाईलैंड के रायल फैमिली की राजकुमारी महाचक्री सिरिनधोर्न कल यानी गुरुवार को व्‍यक्तिगत कार्यक्रम के लिए काठगोदाम आ रही हैं। पंतनगर एयरपोर्ट डायरेक्टर एसके सिंह ने बताया राजकुमारी गुरुवार को दिल्ली से दोपहर करीब 12 बजे एयर इंडिया के विशेष विमान से रवाना होंगी। वह पंतनगर एयरपोर्ट पर करीब 1:30 बजे पहुंचेंगी। पंतनगर में आधे घंटे रुककर वह दो बजे सर्किट हाउस काठगोदाम के लिए रवाना होंगी। शुक्रवार सुबह करीब आठ बजे विशेष विमान से दिल्ली के लिए रवाना हो जाएंगी।

थाईलैंड की चूलाचोमक्लाओ रॉयल मिलिट्री अकादमी में शिक्षक एवं संस्कृत, संगीत और एस्ट्रोनामी में गहरी रुचि रखने वाली राजकुमारी महाचक्री सिरिंधोर्न दो दिवसीय भारत दौरे पर हैं। तय कार्यक्रम के अनुसार वह दिल्ली से एयर इंडिया के विशेष विमान (एटीआर-72) से दोपहर बाद पंतनगर एयरपोर्ट पहुंचेंगी। यहां करीब आधा घंटा रुकने के बाद राजकुमारी सर्किट हाउस काठगोदाम रवाना हो जाएंगी। काठगोदाम से रात्रिविश्राम के लिए देर रात रेडिसन होटल रुद्रपुर के लिए रवाना होंगी। अगले दिन शुक्रवार सुबह वह दिल्ली के लिए पंतनगर एयरपोर्ट से उड़ान भरेंगी।

राजकुमारी महाचक्री सिरिनधोर्न के कार्यक्रम को लेकर प्रशासन अलर्ट है। डीएम ने संबंधित एसडीएम और सीओ को पत्र जारी कर राजकुमारी की अगवानी, विदाई, सुरक्षा, आरक्षण यातायात नियंत्रण आदि की व्यवस्था सुनिश्चित करने सहित एसएसपी को प्रोटोकाल नियमों और शासनादेशों में उल्लिखित प्रावधानों के अनुसार सुरक्षा सुनिश्चित करने के निर्देश दिए हैं।

राजकुमारी सिरिंधोर्न को भारत से विशेष लगाव है। वह 18 बार भारत के विभिन्न हिस्सों का दौरा कर चुकी हैं। कुमाऊं में यह उनकी पहली यात्रा होगी। राजकुमारी को भारत सरकार ने वर्ष 2017 में पद्मभूषण से सम्मानित किया था। इसके साथ ही उन्हें इंदिरा गांधी शांति पुरस्कार, वर्ल्ड संस्कृत अवार्ड और रमन मैगसेसे अवार्ड से भी सम्मानित किया जा चुका है। महारानी महाचक्री को संस्‍कृत भाषा के प्रचार-प्रसार के लिए वर्ल्‍ड संस्‍कृति अवार्ड से सम्‍मानित किया जा चुका है।