हल्द्वानी में बिना ट्रैवल हिस्ट्री के तीन संक्रमित मिलें, अब कांटेक्ट ट्रेसिंग होगी

हल्द्वानी में बिना ट्रैवल हिस्ट्री के तीन संक्रमित मिलें, कांटेक्ट ट्रेसिंग पर दिया जाएगा जोर

हल्द्वानी: राज्य में कोरोना वायरस को मात देने वालों की संख्या 2018 हो गई है। यह आंकड़ा राहत जरूर देता है लेकिन हल्द्वानी में बिना यात्रा इतिहास के तीन कोरोना संक्रमित मिलने से प्रशासन के लिए पैनिक बटन दब गया है। तीन केस सामने आने के बाद सामुदायिक प्रसार की संभावना बढ़ रही है। कल ही एक अन्य मरीज की रिपोर्ट पॉजिटिव आई थी और निजी हॉस्पिटल में उनकी मौत हुई। हालांकि वो अन्य बीमारी से भी ग्रस्त थे।

बिना ट्रैवल इतिहास के सबसे पहले शहर में दो मामले सामने आए। दोनों महिलाएं गर्भवती थी। प्रशासन ने ट्रैवल इतिहास जानने की कोशिश की लेकिन कुछ नहीं मिला। इसके बाद एक अन्य मरीज जिनकी मौत रविवार को हुई उनकी भी कोई ट्रैवल हिस्ट्री सामने नहीं आई है। यह सभी लक्ष्यण सामुदायिक प्रसार के हैं। अगर ऐसा होता है तो परेशानी और बढ़ सकती है।

एसीएमओं डॉ. रश्मि पंत ने बताया कि तीनों मरीजों के यात्रा इतिहास सामने नहीं आए हैं। अब कांटेक्ट ट्रेसिंग के जरिए लोगों को क्वारंटाइन किया जाएगा। इस मामले में एसडीएम विवेक राय ने कहा कि बुजुर्ग की मौत के बाद मटरगली और मंगलपड़ाव में कांटेक्ट ट्रेसिंग की जाएगी। जरूरत पड़ी तो सैंपलिंग भी करेंगे। उन्होंने इस तरफ भी इशारा किया है कि मटर गली और मंगलपड़ाव को कंटेमनेंट जोन भी बना सकते हैं।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now