हरिद्वार:राज्य में रोजाना चोरी की अनेक घटनाएं सामने आती हैं। पुलिस के सामने भी चोर बड़ी चुनौती पेश करते है। पुलिस की तैनाती के बाद भी वो चकमा देकर अपना हाथ साफ कर देते है। शुक्रवार को चोरों के संबंध में ऐसी घटना सामने आई जिसने सभी को चौका कर रख दिया। हरिद्वार में चोरों ने डीएम दीपक रावत का पर्स ही चोर डाला। इस घटना के बाद पूरे जिले में हड़कंप मच गया। लोग सोचने में मजबूर हो गए है कि अगर चोर डीएम के पर्स पर हाथ साफ कर सकते है तो उनके हौसले कितने बुलंद होंगे। डीएम दीपक रावत अपनी सख्त कार्यशैली से पूरे राज्य में विख्यात हैं। चोर की हरकत सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। जिसकी मदद से पुलिस ने चोर को पकड़ लिया।

जानकारी के मुताबिक शुक्रवार को नारसन ब्लॉक में  बीडीसी (ब्लॉक डेवलपमेंट कमेटी) की बैठक थी। इसमें ग्राम प्रधान और क्षेत्र पंचायत सदस्यों के बीच डीएम दीपक रावत हिस्सा लेने पहुंचे थे। बैठक के दौरान डीएम बैठक ने पर्स को मेज पर रख दिया। इस बीच कुछ जरूरी काम आने पर डीएम बैठक के बीच से चले गए। डीएम को रास्त में कहीं पैसों की जरूरत हुई। उन्होंने जेब में देखा तो उनका पर्स नहीं था। डीएम ने ब्लाक के अधिकारियों को पर्स के बारे में जानकारी दी। ब्लाक कर्मचारियों ने पर्स की खोज शुरू की तो उन्हें वह मेज पर नहीं मिला। इसके बाद सीसीटीवी कैमरे को देखा गया जहां पर एक युवक पर्स ले जाता हुआ दिखाई दिया। पुलिस जांच में सामने आया कि आरोपी युवक बैठक में मौजूद था। सीसीटीवी में युवक का चेहरा दिख गया। पुलिस ब्लाक की टीम साथ आरोपी के घर पहुंची। आरोपी के पास से पर्स बरामद किया गया। डीएम दीपक रावत ने बताया कि पर्स में 25 हजार रुपये थे। बरामद पर्स में पांच हजार रुपये ही मिले। डीएम ने बताया कि आरोपी बीडीसी बैठक में बैठने के लिए अधिकृत नहीं था। वह बैठक में कैसे आया इसकी जांच कराई जाएगी। मामले में मुकदमा दर्ज कराने के आदेश दिए गए हैं।