कुंभ श्रद्धालुओं के लिए 500 बसें चलाएगा रोडवेज, पूरी लिस्ट पर डाले नजर

हल्द्वानी: कुंभ को लेकर श्रद्धालु काफी उत्साहित हैं। इस उत्साह को बनाए रखने के लिए शासन-प्रशासन और मेले के आयोजन से जुड़े अनेकों विभाग भी तैयारियों में जुटे हुए हैं। उत्तराखंड रोडवेज ने भी कुंभ श्रद्धालुओं के लिए बड़ी प्लानिंग की है। रोडवेज ने मेले के लिए सैंकड़ों बसें लगाने का प्लान बना लिया है।

कुंभ के मद्दनेज़र परिवहन निगम में चर्चाओं का दौर तो लंबे वक्त से चल रहा था मगर अब बात कुछ बनती नज़र आ रही है। कुंभ को लेकर शासन ने उत्तराखंड परिवहन निगम को निर्देशित किया तो निगम ने सभी सहायक महाप्रबंधकों को पत्र भेज बसें मुहैया करवाने के लिए कहा है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के बेटे को मिली आईपीएल में कप्तानी,धोनी के असली उतराधिकारी हैं ऋषभ पंत

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड सरकार ने जारी की कोरोना की नई गाइडलाइन, एक अप्रैल से होगी लागू

उत्तराखंड से कुंभ के लिए कुल 500 बसें चलाई जाएंगी। जारी निर्देशों के अनुसार बुधवार शाम तक गाड़ी नंबर, चालक व परिचालक का नाम-पता व मोबाइल नंबर मुख्यालय पहुंचाना होगा। गाडिय़ों का डाटा पहुंचने के बाद धीरे-धीरे वाहन हरिद्वार मंगवाए जाएंगे।

पर्वतीय डिपो दून 20, ग्रामीण देहरादून 65, हरिद्वार 90, कोटद्वार 35, ऋषिकेश 65, रूड़की 35, श्रीनगर पांच, जेएनएनयूआरएम दून 35, जेएनएनयूआरएम हरिद्वार 20, अल्मोड़ा 10, भवाली 10, रानीखेत 10, हल्द्वानी 20, काशीपुर 25, काठगोदाम 20, रामनगर 30 व रुद्रपुर डिपो के सहायक महाप्रबंधक को 40 गाडियां कुंभ भेजने के लिए कहा गया है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: कोरोना वायरस ने पार किया एक लाख का आंकड़ा, कुछ देर पहले जारी हुआ है बुलेटिन

यह भी पढ़ें: एक बार फिर यूट्यूब पर छाए हरिद्वार के शिवम सडाना, शहंशाह गाने में दिखाया अलग अंदाज

आपको बता दें कि कुंभ को लेकर परिवहन निगम द्वारा रोडवेज को पहले ही आगाह कर दिया गया था कि जल्द से जल्द ज़रूरी कामों को पूरा कर लिया जाए। साथ ही वर्कशॉप में रखी गाडिय़ों की मरम्मत आदि का काम पूरा कर लिया जाए। जिससे कि अचानक आदेश जारी होने पर अफरा-तफरी या किसी भी तरह की दिक्कत सामने ना आए।

इसी कड़ी में मुख्यालय ने पहले ही टायरों से लेकर स्पेयर पाट्र्स की खरीद के लिए सिर्फ नैनीताल रीजन को तीस लाख रुपये उपलब्ध करवाए थे। स्थानीय अधिकारियों से मिली जानकारी के मुताबिक बसों की ज़रूरत एक अप्रैल से बताई गई है। जिसके लिए आज शाम तक पूरी सूची मुख्यालय भेज दी जाएगी।

यह भी पढ़ें: शादी के बाद नहीं छोड़ी पढ़ाई, देवरानी-जेठानी ने एक साथ पास की UPPSC परीक्षा

यह भी पढ़ें: जय देवभूमि-आस्था तो देखिए,लग्जरी जिंदगी छोड़ स्विट्जरलैंड से पैदल हरिद्वार पहुंचे बाबा बेन

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now