इन होम्योपैथिक दवाओं में छिपा है टॉन्सिल की समस्या का इलाज, जरूर देखे वीडियो टिप्स

21

हल्द्वानी: गले में टॉन्सिल की समस्या लोगों में आम देखने को मिलती है। इस बीमारी में गले के अंदर दोनों तरफ मांस में गांठ बन जाती है। हल्द्वानी स्थित साहस होम्योपैथिक के डॉक्टर एनसी पांडे ने बताया कि इसके कारण गले में सूजन, तेज दर्द और बोलने में परेशानी हो जाती है। इसके अलावा इससे खाने का स्वाद भी नहीं पता चलता। इंफेक्शन, बैक्टीरिया, गलत खान-पान या मौसम के बदलाव के कारण होने वाली इस समस्या को कारण आपको कब्ज की समस्या भी हो सकती है। कुछ लोग इस समस्या से छुटकारा पाने के लिए होम्योपैथिक इलाज कारगर है। उन्होंने इस संबंध में कुछ होम्योपैथिक दवाओं के नाम बताए जो इस परेशानी से निजात दिला सकती है।

टॉन्सिल के लक्षण
शरीर का उच्च ताप
सूखा बलगम
बुखार के साथ कंपकंपी
सांसों में बदबू
टॉन्सिल के उपाय
अंदर से गला लाल होना दर्द होना
आवाज का भारीपन
खान-पीन या निगलने में परेशानी

टॉन्सिल के कारण

  • आयोडीन की कमी
  • मौसम में बदलाव
  • ठंडी चीजें खाने पर
  • गलत खान-पान
  • इंफेक्शन या बैक्टीरिया के कारण
  • धूल-मिट्टी के कारण
  • खट्टी-मीठी चीजों का सेवन