साहस होम्योपैथिक वीडियो टिप्स, जड़ से होगा फंगल इंफैक्शन का इलाज

बारिश के मौसम में त्वचा संबंधी कई बीमारियां होती है। बारिश में कई लोगों को खुजली, मुंहासे या फिर त्वचा के अधिक तैलीय होने की समस्या होती है, लेकिन बैक्टीरियल और फंगल संक्रमण (Fungal Infection) सर्वाधिक परेशानी का सबब बनते हैं और समय रहते इन पर सावधानी न बरती जाए तो यह समस्या गंभीर हो जाती है।

 बारिश के आने से हमारी जलवायु का वातावरण भी बदलता है। इस परेशानी के बारे में हल्द्वानी स्थित साहस होम्योपैथिक क्लीनिक के डॉक्टर नवीन चंद्र पांडे ने टिप्स दी। उन्होंने कहा कि वातावरण में नमी बढ़ जाती है। नमी के कारण हमारी त्वचा पर इसका काफी असर पड़ता है। इस मौसम में त्वचा संबंधी रोग, संक्रमण और जलन आदि का खतरा 10 गुना बढ़ जाता है। इस दौरान हवा में मौजूद नमी शरीर में तेल के स्राव को बढ़ाती है। उन्होंने वीडियो टिप्स के जरिए इस परेशानी का इलाज बताया।

टिप्स

  • इस मौसम की समस्याओं को लोग अनदेखा कर देते हैं, जबकि कभी-कभी यह गंभीर रूप ले लेती है।
  • अधिकांश लोग चिकित्सक के पास न जाकर बाजार से फंगल संक्रमण की दवाएं खरीदकर उनका प्रयोग करते हैं, जो बहुत गलत है।
  • एक ही दवा सभी पर एक तरह प्रभाव करे, यह जरूरी नहीं है।
  • लोगों में फंगल संक्रमण के कारण और लक्षण अलग-अलग होते हैं. यह एक से दूसरे में भी आसानी से फैल सकता है।
  • घर पर ही इलाज न करें। त्वचा विशेषज्ञ ही सही तरीके से जांच कर समस्या का उपचार बता पाते हैं।
  • किसी विशेषज्ञ के पास जाकर आप अपनी समस्या को सही तरीके से ठीक कर सकते हैं।