हिमालयन का अंडर-15 क्रिकेट टूर्नामेंट में कब्जा, 7 विकेट से दिल्ली को दी मात

99

हल्द्वानी: शहर में क्रिकेट का जूनून प्रतिदिन बढ़ता जा रहा है । इसी को देखते हुए हल्द्वानी शहर के विभिन्न हिस्सों में क्रिकेट प्रतियोगिताओं का आयोजन हो रहा है। चकलुआ स्थित मलकानी क्रिकेट ग्राउंड क्रिकेट आयोजन को लेकर पिछले कई वक्त से सुर्खियों बटोर रहा है। रविवार को मलकानी क्रिकेट ग्राउंड में दिल्ली इंद्रपस्थ इंटरनेशनल स्कूल और हिमालय क्रिकेट एकेडमी हल्द्वानी के बीच अंडर-15 क्रिकेट टूर्नामेंट का फाइनल मुकाबला खेला गया।

 

बारिश के चलते मैच देरी से शुरू हुआ और मैच को 20 ओवर का किया गया। टॉस जीतकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी दिल्ली इंद्रपस्थ इंटरनेशनल स्कूल की टीम ने निर्धारित 20 ओवर में 6 विकेट खोकर 131 रन बनाए। बल्लेबाजी में दिल्ली इंद्रपस्थ इंटरनेशनल स्कूल की ओर से नमन तिवारी ने शानदार 66 रनों की पारी खेली। वहीं दिव्यांश नेगी ने 24 और चिराग गुप्ता ने 20 रनों का योगदान दिया। इसके अलावा दिल्ली इंद्रपस्थ इंटरनेशनल स्कूल का कोई भी बल्लेबाज हिमालयन क्रिकेट एकेडमी के गेंदबाजों का सामना नहीं कर सका। हिमालयन के लिए एक बार फिर स्पिनरों ने शानदार गेंदबाजी की। हिमालयन के आरुष, अभिषेक और अभिनव ने 2-2 विकेट अपने नाम किए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी हिमालयन की शुरुआत खराब रही और मात्र 7 रन के स्कोर पर अटल 4 रन बनाकर आउट हो गए। इसके बाद करन रावत और हर्षित ने टीम को आगे बढ़ाया लेकिन करन अपनी पारी को 14 रनों से आगे ले जाने में नाकाम रहे। हिमालयन को इसके बाद एक हर्षित के रूप में तीसरा झटका लगा और टीम का स्कोर 41 रन पर तीन था।हर्षित ने 22 रनों की पारी थी। मुकाबला एक बार फिर बराबरी पर आ गया और लगातार खिताब पर कब्जा जमाने वाली हिमालयन टीम दवाब पर थी। बल्लेबाजी करने आए कुशाग्र मलकानी और दीपक ने टीम को संकट से निकालने की जिम्मेदारी ली और धीरे-धीरे स्कोर को बढ़ाना शुरू किया। दोनों ने दिल्ली इंद्रपस्थ इंटरनेशनल स्कूल की वापसी पर पानी फेरते हुए 5 विकेट के लिए 92 रनों की मैच जिताओं साझेदारी की। कुशाग्र मलकानी ने शानदार 50 *रनों की पारी खेली वहीं टीम ने नाबाद 29 रन बनाए। दोनों की पारी के बदौलत हिमालयन ने 7 विकेट से फाइनल को अपने नाम किया और खिताब जीतने के सिलसिले को कायम रखा। दिल्ली इंद्रपस्थ इंटरनेशनल स्कूल की ओर से गेंदबाजी में चिराग गुप्ता ने 2 और आशीष तनवर ने एक विकेट लिया।

 

फाइनल मुकाबले की समाप्ती के बाद विशिष्ट अतिथि के रूप में आए नैनीताल क्रिकेट संघ के सचिव दान सिंह भंडारी ने विजेता व उपविजेता टीम को सम्मानित किया। इस मौके पर उन्होंने कहा कि उत्तराखण्ड की क्रिकेट अच्छी दिशा में आगे बढ़ रही है। मैं सभी खिलाड़ियों के संदेश देना चाहूंगा कि वो युवा खिलाड़ियों को प्रेरित करें, जगह के लिए कॉपेटिशन जरूर हो लेकिन वो ईर्ष्या का रूप ना ले। अंडर-15 क्रिकेट प्रतियोगिता के फाइनल में शानदार बल्लेबाजी करने वाले कुशाग्र मलकानी को मैन ऑफ द मैच, हल्द्वानी के रहस्मय स्पिन गेंदबाज के रूप में पहचान बना रहे अभिनव पंत को टूर्नामेंट का बेस्ट बॉलर व दिल्ली के नमन तिवारी को बेस्ट बैट्मेन रहे।

उन्होंने कहा कि हमे पूरी उम्मीद है कि उत्तराखण्ड क्रिकेट को बीसीसीआई से जल्द मान्यता मिलेगी और युवा अपने राज्य का परचम लहराएगा।इस मौके पर हिमालयन क्रिकेट एकेडमी के कोच दान सिंह कन्याल, धिरेंद्र डालाकोटी व नरेंद्र पंत भी मौजूद रहे।