नाबालिग को पसंद नहीं आया दूल्हा तो बरेली से पहुंच गई हरिद्वार, पड़ोसी पर लगा अपहरण का आरोप

बरेली: घरवालों ने लड़की की शादी उसकी मर्जी के खिलाफ तय की तो लड़की ने इसका जमकर विरोध किया। विरोध के बावजूद परिजनों ने उसी लड़के के साथ शादी करने का फरमान सुना दिया जो लड़का लड़की को पसंद नहीं था। इस पर युवती नाराज और हताश होकर हरिद्वार जाकर धर्मशाला में रुकी। अब नाबालिग किसी भी हाल में माता-पिता के साथ जाने को तैयार नहीं है। पुलिस ने उसे महिला थाने भेज दिया है। इधर, लड़की को घर में न देख परिजनों ने मोहल्‍ले के एक 52 वर्षीय झोलाछाप पर उसके अपहरण का आरोप लगा दिया।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड पुलिस की वर्दी पहनेंगे हजारों युवा,2500 ज्यादा पदों पर होगी भर्ती

यह भी पढ़े:UPSC नतीजों में उत्तराखंड की श्वेता जोशी ने हासिल की 49 रैंक, भारतीय रेलवे में बनेंगी अधिकारी

बता दें कि यह मामला बारादरी थाना क्षेत्र का है। जहां पीड़ित ने छह दिसंबर को दर्ज मुकदमे में बताया था कि उसकी 17 वर्षीय बेटी मानसिक रूप से कमजोर है। मोहल्ले का एक झोलाछाप के पास उनकी बेटी दवा लेने गई थी। इसके बाद आरोपी देर रात उनकी बेटी के साथ फरार हो गया था। उन्होंने बताया कि 20 हजार रुपये नकद व लगभग ढाई लाख का घर में रखा सारा जेवर और आधार कार्ड लेकर चला गया। शुक्रवार शाम अचानक नाबालिग अपना सामान लेकर बारादरी थाने पहुंच गई। झोलाछाप पर पिता की ओर से लगाये गये आरोप गलत निकले। लेकिन नाबालिग किसी भी हाल में माता-पिता के साथ जाने को तैयार नहीं है।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड में डबल खुशी,परमाणु अनुसंधान केंद्र में वैज्ञानिक बनें देवभूमि के दो बच्चे

यह भी पढ़े:सरकारी धन हुआ गबन,चमोली डीएम स्वाति ने पंचायत अधिकारी और प्रधान पर FIR के दे दिए निर्देश

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now