हल्द्वानी: सेना के पूर्व ब्रिगेडियर ने फहराया तिरंगा तो भारत माता के जयकारों से गूंज उठा स्कूल परिसर

143

हल्द्वानी: बुधवार को पूरा भारत वर्ष आजादी का 72वीं जन्मदिन बना रहा था। आजादी के लिए अपने प्राण निछावर करने वाले वीरों को याद कर सलामी दी गई। हल्द्वानी मोतीनगर स्थित शैमफॉर्ड स्कूल में भी स्वतंत्रता दिवस धूमधाम से मनाया गया।  स्वतंत्रता दिवस के समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में सेवानिवृत्त ब्रिगेडियर धनश्याम लोशाली ने ध्वजारोहण कर परेड को सलामी दी। प्री प्राइमरी वर्ग के बच्चों के द्वारा स्वतंत्रता सेनानी धीम पर फैंसी ड्रैस प्रतियोगिता में भाग लिया।

Image may contain: one or more people, people on stage and people standing

कोई छात्र भगत सिंह बना था, तो कोई नवाहर लाल नेहरू, कोई महात्मा गांधी तो कोई चंद्रशेखर आजाद, किसी ने लाल बहादुर शास्त्री का वेष धारण किया था तो किसी ने रानी लक्ष्मी बाई की। इन सभी को देख समारोह में मौजूद लोग भावुक हो गए। इसके अलावा छात्रों ने कई देश भक्ति से जुड़े गीतों में अपनी प्रस्तुति पेश की।

समारोह में मुख्य अतिथि के रूप में मौजूद सेवानिवृत्त ब्रिगेडियर धनश्याम लोशाली समारोह में  मौजूद लोगों को संबोधित किया। उन्होंने कहा कि आज के बदलते वक्त में अभिभावकों को अपने बच्चे के लिए रोजाना एक घंटा जरूर निकालना चाहिए। उन्होंने छोटे बच्चों द्वारा पेश की गई प्रस्तुति की जमकर तारीफ की।

उन्होंनें कहा कि ये दिखाता है कि छात्र अपने काम के लिए कितने उत्साहित और केंद्रित है। इसका श्रैय शेमफॉर्म स्कूल को जाता है, जिसने परिसर में ऐसा माहौल बनाया है। वहीं स्कूल की प्रधानाचार्य श्रीमती सी.के अमोला ने बच्चों से सभी वीर लेखकों, गायककारों और कवियों को याद रखने की अपील की। उन्होंने कहा कि आज हम इन्ही महान व्यक्तियों के कारण ही आजाद हुए हैं। कार्यक्रम का संचालन अपराजिता गरवाल एवं गौरव चोपड़ा ने किया।

शैमफॉर्ड स्कूल के चैयरमेन दयासागर बिष्ट ने समारोह में मौजू सभी लोगों का आभार व्यक्त किया। इस दौरान हल्दूचौड़ चौकी प्रभारी विमल मिश्रा, विद्यालय के डायरेक्टर किशोर गहतोड़ी, राजेश बिष्ट, ललित मोहन बिष्ट, सुनील बिष्ट, बीएस मनराल, सेठ पिताम्बर दत्त कब्डाल , पीसी खोलिया, ग्राम प्रधान भावना दुर्गापाल, समाजसेवक कमलेश चंदोला, गीतकार प्रभाकर जोशा व समस्त विद्यालय प्रबंध समिति व स्टाफ मौजूद रहा।