IPL 2020: फॉर्म में लौटे कमलेश नगरकोटी, फैंस बोले दौड़ रही है उत्तराखंड एक्सप्रेस

दो साल बाद कमलेशन नगरकोटी को मिला आईपीएल का पहला विकेट.. चोट के चलते रहे थे बाहर

हल्द्वानी: साल 2018 की शुरुआत में एक ऐसे गेंदबाज को विश्व ने देखा था जो केवल 19 साल में 150 की रफ्तार से गेंद डाल रहा था। इस गेंदबाज का नाम था कमलेश नगरकोटी, जिन्होंने अंडर-19 भारतीय टीम को 2018 में विश्वकप जीताने में अहम योगदान दिया था। कमलेश मूल रूप से उत्तराखंड के बागेश्वर के रहने वाले हैं। उन्होंने राजस्थान से अपने क्रिकेट करियर की शुरुआत की थी और फिर भारत के लिए जूनियर लेवल में खेले। पढ़ना जारी रखें…

यह भी पढ़ें: अनलॉक-5 की गाइडलाइन जारी हो गई,कौन से प्रतिबंध जारी रहेंगे,सब कुछ जानें

विश्वकप में शानदार प्रदर्शन का इनाम उन्हें आईपीएल में मिला, उसी साल कमलेश को कोलकाता नाइटराइडर्स ने खरीदा (3.2 करोड़) था लेकिन टूर्नामेंट शुरू होने से पहले वह चोटिल हो गए थे। चोट के चलते वह दो साल आईपीएल का कोई मैच नहीं खेल पाए लेकिन केकेआर ने उन्हें बाहर नहीं किया बल्कि अपनी टीम में रखा। कमलेश ने आईपीएल-13 सीजन में डेब्यू किया। वह पहली बार सनराइजर्स हैदराबाद के खिलाफ पहला मैच खेला, इस मैच में कमलेश को कोई विकेट नहीं मिला लेकिन बुधवार रात राजस्थान रॉयल्स के खिलाफ उन्होंने अपने खेल से सभी को प्रभावित किया। पढ़ना जारी रखें…

यह भी पढ़ें: कमल रावत मौत मामला: पांच को किया गया निलंबित, एक को नौकरी से हटाया

केकेआर ने राजस्थान को 37 रनों से मात देकर टूर्नामेंट में दूसरी जीत हासिल की। केकेआर ने पहले बल्लेबाजी करते हुए 6 विकेट के नुकसान पर 174 रन बनाए थे। जवाब में राजस्थान रॉयल्स 9 विकेट के नुकसान पर 137 ही बना सकी। इस मैच में कमलेश नगरकोटी ने बल्ले, गेंद और फिल्डिंग से सभी को प्रभावित किया। पहले उन्होंने 5 गेंदों में 8 रन बनाए। इसके बाद गेंदबाजी के मोर्चे में उन्होंने 2 विकेट हासिल किए। उन्होंने रोबिन उथप्पा और रयान पराग को पवेलियन भेजा। इसके अलावा उन्होंने दो शानदार कैच भी पड़े। मैच के दौरान कॉमेंट्रेटर्स ने कहा कि कमलेश नगरकोटी की तारीफ क्यों होती है… उन्होंने मैदान पर दिखाया है। यह गेंदबाज अनुभव के साथ आगे बढ़ेगा और देश की सेवा लंबे वक्त तक करेगा। पढ़ना जारी रखें…

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सामने आए हजार से ज्यादा कोरोना मामले, 20 मरीजों की मौत

कमलेश नगरकोटी के अच्छे प्रदर्शन के बाद उत्तराखंड के फैंस भी काफी खुश हैं। खेल पत्रकार गौरव अग्रवाल ने कहा कि कमलेश ने केवल 2 ओवर गेंदबाजी की और अपने को साबित किया। वह तेज गेंदबाज होने के बाद एक शानदार फील्डर हैं। उन्होंने कहा कि उत्तराखंड एक्सप्रेस पटरी पर लौट आई है और जल्द अपनी गति पकड़ेगी। उन्होंने इस दौरान शिवम मावी की तारीफ कि जिन्होंने शानदार गेंदबाजी के लिए मैन ऑफ द मैच मिला। मावी ने 4 ओवर में 20 रन देकर 2 विकेट हासिल किए।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now