जेल में सोशल मीडिया के जरिए कार्यकर्ताओं के टच में रहेंगे लालू

119

पटना: चारा घोटाला में दोषी करार बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री और राष्ट्रीय जनता दल (राजद) के अध्यक्ष लालू प्रसाद जेल में बंद होने के बाद भी अपने कार्यकर्ताओं के टच में रहेंगे और संगठन को चलाएंगे। लालू प्रसाद यादव सोशल मीडिया के माध्यम से अपने  कायकर्ताओं के संपर्क में रहेंगे।इसके लिए लालू ने एक अनोखा तरीका निकालते हुए ट्विटर का सहारा लिया है। बिहार के पूर्व मुख्यमंत्री लालू ने कार्यकर्ताओं को संगठित और सचेत करते हुए सोमवार को ट्वीट कर लिखा, “प्रिय साथियों, कारागार (जेल) प्रवास के दौरान मेरे ट्विटर हैंडल का संचालन मेरा कार्यालय और परिवार के सदस्य करेंगे।समय-समय पर मुलाकातियों के मार्फत कार्यालय को संदेश पहुंचेगा, जो आपके पास ट्विटर या अन्य विधायक से पहुंच जाएगा। संगठित रहिए, सचेत रहिए।

”वैसे, लालू इस नायाब तरीके से कार्यकर्ताओं और लोगों के साथ कितने संपर्क में रह पाएंगे, यह देखने वाली बात होगी। उल्लेखनीय है कि पिछले कई महीनों से लालू ट्विटर पर खासे सक्रिय रहे हैं और ट्वीट के जरिए ही विपक्षियों पर निशाना साधते रहे हैं। दीगर बात है कि शुरू में वे सोशल मीडिया की आलोचना करते थे।गौरतलब है कि चारा घोटाले के एक मामले में लालू प्रसाद अदालत द्वारा दोषी करार दिए गए हैं। इस मामले में अदालत तीन जनवरी को सजा सुनाएगी। चर्चित चारा घोटाले के एक मामले में केंद्रीय जांच ब्यूरो (सीबीआई) की विशेष अदालत द्वारा दोषी करार दिए गए है।