एंग्जाइटी अटैक की वजह बना कोरोना, डॉ. नेहा शर्मा ने कुसुमखेड़ा में शुरू की सेवा

हल्द्वानी: कोरोना वायरस के बढ़ते मामले लोगों को परेशान कर रहे हैं। यह उन्हें अब मानसिक रूप से भी परेशान कर रहा है। बुखार आने पर भी लोगों को कोरोना वायरस होने का डर सताने लगा है। जो लोग कोरोना जांच करवा रहे हैं रिपोर्ट मिलने तक वह परेशान हो रहे हैं। कोरोना वायरस के बारे में अधिक सोचने के वजह से वह एंग्जाइटी पैनिक अटैक से जूझना पड़ रहा है। इस बारे में लोगों मनसा क्लीनिक की डॉक्टर नेहा शर्मा ने अहम टिप्स दी है। उन्होंने कहा कि कोरोना वायरस के डर के वजह से ऐसा हो रहा है। नकारात्मक माहौल के होने से पर्सनालिटी डिसऑर्डर समस्या बढ़ जाती है। उन्होंने बताया कि लोगों को रिपोर्ट कराते वक्त अपना मूड नॉर्मल रखना चाहिए। सकारात्मक होकर जांच कराने की जरूरत है। उन्होंने बताया किन इस तरह की परेशानी को दूर करने के लिए नियमित योग व व्यायाम करें। मूड ठीक करने के लिए संगीत सुने, इसे आपका माइड सकारात्मक दिशा की ओर जाएगा। ऐसे वक्त में वह काम करें जो आपकों पसंद है। फेफड़ों की एक्सरसाइज़ कर सकते हैं। गर्म पानी का गरारा करें और काढ़ा पी भी सकते हैं।

जरूरी सूचना, मानसा क्लीनिक अब कुसुमखेड़ा गिरजा कॉम्पलेक्स देगा सेवा 

हल्द्वानी में मुखानी चौराहे स्थित मालती देवी कॉम्पलेक्स में सालों से सेवा दे रहे मनसा परामर्श क्लीनिक अब कमलुवागांजा रोड कुसुमखेड़ा गिरजा कॉम्पलेक्स हनुमान मंदिर के पास अपनी सेवा लोगों को देगा। कोरोना काल में लोगों की मानसिक परेशानियों के ग्राफ में बढ़ोतरी हुई है और इसे देखते हुए डॉक्टर नेहा शर्मा ने फोन पर भी सेवा शुरू की हुई है। मानसिक तौर पर परेशान और अधिक स्ट्रैस लेने वाले खुद डॉ. नेहा को (9837173140) नबंर पर डायल करके मनसा क्लीनिक टीम से संपर्क कर सकते है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now