अंतिम संस्कार के लिए नहीं थे मां के पास पैसे, तो उठाया ये दर्दनाक कदम

224

नई दिल्ली: पैसा ना होना भी एक दुख है। मनुष्य की जीवन रेखा पैसों के इर्द गिर्द ही घूमती है। चाहे सांस रहने तक या भी मृत्यु के वक्त पैसा हर वक्त इंसान का साथ नहीं छोड़ता है। बस्तर से आई एक खबर आपकों हिला सकती है। जहां मां के पास अपने बेटे का अंतिम संस्कार करने के पैसे नहीं हुए तो उसने अपने बेटे का शरीर दान कर दिया। ये मामला शुक्रवार को सामने आया। मीडिया को मिली जानकारी के मुताबिक महिला के बेटा सड़क हादसे में घायल हुआ था। उसे गदलपुर मेडिकल कॉलेज में भर्ती कराया गया लेकिन इलाज के व्कत उसने दम तोड़ दिया। हॉस्पिटल प्रशासन ने युवक के शव को उसकी मां को सुपुर्द कर दिया।

महिला के पास शव को गांव ले जाने तक के पैसे भी नहीं थे। वह चाहती थीं कि शव को यहीं छोड़ दिया जाए। मृतक के परिवारवालों को हताश-परेशान देखकर मेडिकल कॉलेज के ही एक डॉक्टर ने उन्हें देहदान का उपाय बताया। यह सुनते ही उस मृत शख्स की मां को थोड़ा संतोष हुआ और उन्होंने बेटे का देहदान कर दिया। यह पहला मैका है जब गदलपुर मेडिकल कॉलेज को कोई शव दान में मिला है।