नैनीताल: जम्मू कश्मीर में गढ़वाल राइफल के जवान यशपाल सिंह रावत की मौत

रामनगर: देश की रक्षा में तैनात उत्तराखंड के लाल का निधन गया। 19 गढ़वाल रायफल के जवान का नाम यशपाल सिंह रावत है। वह जम्मू कश्मीर में तैनात थे। बताया जा रहा है कि यशपाल सिंह रावत की ड्यूटी के बाद ब्रीफिंग के दौरान अचानक तबीयत खराब हो गई।उन्हें चक्कर आ रहे थे। उपचार के लिए उन्हें ट्रांजिस्ट कैम्प चिकित्सालय ले जाया गया। यह भी कहा जा रहा है कि नीचे गिरने से उनके सिर पर चोट आई थी और उनका ब्रेन हैमरेज हो गया था। सेना के अधिकारियों ने पूरे मामले की जानकारी परिवार को दी और पत्नी को बुलाया था।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:चैकिंग के दौरान सीपीयू जवान ने रोकी एसपी की कार, कागज मांगे

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में लौटा क्रिकेट, 16 अक्टूबर से ट्रायल, सुरक्षा के लिए बायो बबल लागू

यशपाल रावत मूल रूप से पौड़ी गढ़वाल,बैजरो के टोल्यो गाँव के रहने वाले थे।पिछले 20 वर्षों से रामनगर के पीरूमदारा क्षेत्र के मयूर बिहार कॉलोनी में उनका परिवार रहता है। उनकी पत्नी उत्तराखंड से टैक्सी बुक कर जम्मू कश्मीर के उधमपुर के लिए रवाना हुई लेकिन उनके पहुंचने तक जवान ने दम तोड़ दिया था। साल 2002 में यशपाल सिंह रावत 19 गढ़वाल राइफल में भर्ती हुए थे।उनकी तैनाती जम्मू कश्मीर के उधमपुर इलाके में थी।यशपाल सिंह रावत अपने पीछे पत्नी के अलावा एक 13 वर्षीय बेटी सृष्टि,14 वर्षीय बेटे सुजल को छोड़ गए हैं। उनकी मौत के बाद क्षेत्र में शोक की लहर दौड़ गई है। उनका शव कल सुबह तक पीरूमदारा आने की बात कही जा रही है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में सभी सार्वजनिक वाहनों का तीन महीने का मोटर व्हीकल टैक्स माफ

यह भी पढ़ें: नैनीताल में Online फ्रॉड,पर्यटक के उड़ाए 86 हजार रुपए, ये गलती आप मत करना

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now