हल्द्वानी: बॉक्सर लक्की राणा ने विदेश में रौशन किया भारत का नाम,गांव लौटी तो हुआ भव्य सम्मान

हल्द्वानी: बेटियां सौभाग्य से होती हैं। वाकई यह बात हरेक दफा सच साबित हो जाती है। बेटियों को कम आंकने वालों को रोज़ाना बेटियों द्वारा ही बेहतर जवाब मिल रहे हैं। हल्द्वानी से सटे लालकुआं क्षेत्र की बॉक्सर लक्की राणा जब विदेश से जीतकर लौटी तो माहौल देखने लायक था। लक्की के घऱ पर बधाई देने वालों की लाइन लगी हुई है।

एक गरीब परिवार से निकल कर लक्की राणा ने अंतरराष्ट्रीय स्तर पर ना सिर्फ अपने परिजनों का बल्कि देश का मान बढ़ाया है। जिला नैनीताल के हल्द्वानी ब्लाक के अंतर्गत ग्राम सभा जयपुर खीमा के धनपुर गांव की निवासी लक्की राणा ने हाल ही में यूरोप में हुई अंतरराष्ट्रीय बॉक्सिंग चैंपियनशिप में 64 किलोग्राम में सिल्वर मेडल जीतकर देश का नाम रोशन किया है।

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:छात्रनेता सुंदर आर्य की मौत के मामले में पुलिस ने प्रेमिका को किया गिरफ्तार

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड में कोरोना रफ्तार तेज, कुल 8 इलाकों में लगा लॉकडाउन, लिस्ट देखें

इस उपलब्धि के बाद लक्की राणा पहली बार अपने गृह क्षेत्र लालकुआं पहुंची हैं। उनके यहां पहुंचने पर माहौल देखते ही बनता है। मौके पर पहुंच कर पूर्व कैबिनेट मंत्री हरीश चंद्र दुर्गापाल द्वारा शॉल देकर उनका और माता का सम्मान किया गया और साथ ही शुभकामनाएं भी दी। इस दौरान इंदर सिंह बिष्ट, ग्राम प्रधान सीमा पाठक कैलाश कैलाश बमेटा, मोहन दुर्गापाल सहित कई लोग उपिस्थत रहे।

लक्की राणा की इस सफलता पर नैनीताल के सांसद अजय भट्ट ने भी खुशी जताई है। अजय भट्ट ने खुद लक्की को फोन कर उनसे बात की और उनका हौसला बढ़ाया। साथ ही उन्होंने लक्की को बेहतर भविष्य के लिए शुभकामनाएं दी।

इसके अलावा अनेकों लोग और दल आकर बेटी को सम्मानित कर रहे हैं। इधर दिशा के डायरेक्टर देवेंद्र सिंह बिष्ट, भाजपा प्रदेश सह सोशल मीडिया प्रभारी लक्ष्मण खाती, भाजपा नेता विक्की पाठक, पूरन रजवार ने भी लक्की राणा के घर पहुंचकर माता-पिता और लक्की राणा को बधाई व शुभकामनाएं दी, साथ ही शॉल देकर सम्मानित भी किया।

यह भी पढ़ें: कोरोना वायरस के मामले बढ़े तो उत्तराखंड सरकार ने DGP को लिखा पत्र और जारी किए निर्देश

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड़ में 2400 पार हुए एक्टिव मरीज, आज आपके जिले में कितने केस मिले, देखें

यह भी पढ़ें: धोनी का सिक्स और मिट्टी में सनी गंभीर की जर्सी,बच्चे-बच्चे को याद है 2011 की वो ऐतिहासिक रात

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:नेपाल से दूरी होगी कम, रेलवे लाइन का विस्तार बढ़ाएगा पर्यटन

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now