हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं ने बिगाड़ा डीएम बंसल का मूड, डॉक्टर का काटा वेतन

नैनीताल: डीएम सविन बंसल ने जम से कार्यभाल संभाला है वो मेडिकल व्य्वस्थाओं को ठीक करने की पूरी कोशिश कर रहे हैं। इस दिशा में वो कई बार हॉस्पिटल में अचानक निरीक्षण के लिए भी पहुंचे हैं। अभी तक जिले की सरकारी हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं से डीएम निराश ही दिखे हैं। निरीक्षण के दौरान कभी कर्मचारी वक्त में नहीं दिखे तो सफाई ने भी डीएम का मूड बिगाड़ा। लापरवाही में शामिल लोगों पर कार्रवाई करने में वह बिल्कुल भी देर नहीं करते हैं।

गुरुवार को डीएम सविन बंसल के निरीक्षण ने हॉस्पिटल के डॉक्टर और कर्मचारियों की जेब ढीली कर दी। रामनगर में डीएम सविन बंसल ने संयुक्त चिकित्सालय का निरीक्षण किया।  उन्होंने चिकित्सालय में गैर हाजिर रहने वाले डॉ. कैलाश रावत का एक दिन का वेतन काटने के निर्देश दिए साथ ही सफाई व्यवस्था से वह निराश दिखे। उन्होंने इस पर सफाई ठेकेदार पर 20 हजार का जुर्माने के साथ ही मरीजों के लिए बन रहे भोजन के दौरान किचन में गंदगी को लेकर खाना बनाने वाले ठेकेदार पर भी पांच हजार रुपये का जुर्माना लगाया। डीएम सविन बंसल के निरीक्षण के दौरान पालिकाध्यक्ष मो. अकरम, सीएमओ भारती राणा, अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डॉ. रश्मि पंत, एसडीएम हरगिरी गोस्वामी, तहसीलदार पूनम पंत, सीओ पंकज गैरोला, कोतवाल रवि कुमार सैनी मौजूद रहे।

डीएम सविन बंसल ने साफ किया कि हॉस्पिटल की व्यवस्थाओं में बिल्कुल भी समझौता नहीं किया जाएगा। उन्होंने साफ किया सफाई पर विषेश ध्यान देने की जरूरत है और भविष्य में वार्डो एवं किचन मे गंदगी पाई गई तो ठेका निरस्त कर दिया जाएगा व प्रशासनिक कार्रवाई भी की जाएगी। उन्होंने कैंटीन में खाद्यनिरीक्षक को बुलाकर सब्जी व दाल के सैंपल भी भरवाए। बता दें कि जिले के सरकारी हॉस्पिटलों में मरीजों की सुविधा के लिए डीएम बंसल ने हेल्पलाइन नंबर भी जारी किया है।

इसके अलावा डीएम ने हॉस्पिटल में भर्ती मरीजों से मुलाकात भी की और हालचाल भी पूछा। कई मरीजों को चिकित्सकों द्वारा बाहर से दवा लिखने पर डीएम ने स्वयं उन मरीजों का पेमेंट किया और कहा जो भी चिकित्सक भविष्य में बाहर की दवाएं मरीजों को लिखेंगे उन चिकित्सकों के खिलाफ कार्रवाई अमल मे लाई जाएगी। जिलाधिकारी ने आइपीडी, ओपीडी, पंजीकरण काउंटर एवं डिस्पेंसरी में शिकायत पंजिका के साथ ही जिलाधिकारी कंट्रोल रूम के फोन नंबर के बोर्ड लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने सीएमएस डॉ. तरुण कुमार पंत को एक माह मे चिकित्सालय में हुई डिलीवरी की सूची का विवरण मांगा। डीएम बंसल ने सीएमओ को निर्देश दिए कि चिकित्सालय में आर्थोपैडिक एवं ईएनटी विशेषज्ञ चिकित्सकों की तैनाती शीघ्र कर दी जाए इसके साथ ही उन्होंने मजदूरी मद से एक लैब टेक्निीशियन रखने के भी निर्देश दिए।

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः पति नशा मुक्ति केंद्र में करा रहा इलाज, पत्नी से दुष्कर्म करता रहा पड़ोसी

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंड के अल्मोड़ा में बादलों ने मचाया ताडंव, बादल फटने से मकान ढहा

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः पत्नी पति से वीडियो कॉल पर कर रही थी बात, हुआ कुछ ऐसा की हुई मौत

यह भी पढ़ेंः उत्तराखण्ड क्रिकेट टीम के लिए खेलेंगे उन्मुक्त चंद, खुद किया ट्विट

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी नैैनीताल बैंक में फिल्मों की तरह दीवार तोड़कर घुसे चोर, हुए नाकामयाब