छात्रों की कामयाबी ने डीएसबी परिसर के पत्रकारिता विभाग को राज्य में दिलाई पहचान

72

नैनीताल: कुमाऊं विश्वविद्यालय के डीएसबी परिसर का का पत्रकारिता एवं जन संचार विभाग अपनी पहचान बना रहा है। यहां से निकले छात्रों का बड़े-बड़े मीडिया हाउस में काम करना डीएसबी परिसर का नाम पत्रकारिता के शिक्षा संस्थानों में ऊंचा कर रहा है। शनिवार को विभाग में फ्रैशर पार्टी का आयोजन किया गया ।

इस मौके परिसर के निदेशक प्रो. एलएम जोशी ने कहा कि काफी कम समय में पत्रकारिता विभाग ने अपनी पहचान बनाई हैं। अपनी मेहनत से विभाग ने खुद के संसाधनों से अपनी लाइब्रेरी, डिजिटल लैब, स्मार्ट क्लास रूम विकसित कर अनुकरणीय उदाहरण प्रस्तुत किया है।  इसके अलावा डीएसडब्ल्यू प्रो. पद्म सिंह बिष्ट ने कहा कि इस विभाग से बहुत से विद्यार्थी बड़े मीडिया हाउसों में काम कर रहे हैं जो एक बड़ी उपलब्धि है। इस मौके पर विभाग की पूर्व समन्वयक प्रो. नीरजा टंडन भी मौजूद थी। उन्होंने कहा कि विभाग की कामयाबी के पीछे अध्यापकों व कर्मियों का महत्वपूर्ण योगदान है।

शनिवार को तृतीय सेमेस्टर के विद्यार्थियों ने चतुर्थ सेमेस्टर पास कर चुके विद्यार्थियों को विदाई दी व प्रथम सेमेस्टर के  विद्यार्थियों का स्वागत किया। इस मौके पर प्रियंका कनवाल, नीतू आर्या, संगीता बुधलाकोटी, उषा पांडे, गुंजन मेहरा, हिमानी बोरा, प्रकाश जोशी, रत्नेश रोहित पंत, सोनी कनवाल, नीरज कफलटिया, ललित बोरा, मोहम्मद सुहेल, तनुज पांडे आदि ने शानदार प्रस्तुति दी। संचालन संदीप कन्नौजिया, पंकज आर्या, रत्नेश रोहित, नीतू आर्या, आसमां नाज, प्रकाश जोशी ने किया। विभागाध्यक्ष डॉ. गिरीश रंजन तिवारी और नेहा साह ने अतिथियों का स्वागत किया। कार्यक्रम में चंदन राम, शोध छात्र नवीन जोशी का विशेष सहयोग रहा।

वहीं प्रथम सेमेस्टर के विद्यार्थियों के बीच मिस्टर और मिस फैशर बनने के लिए प्रतियोगिताओं का आयोजन किया गया।  प्रथम सेमेस्टर की विद्यार्थी और पूर्व मिसेज इंडिया रह चुकी संगीता बुधलाकोटी मिस फ्रेशर व मोहम्मद सुहेल मिस्टर फ्रेशर चुने गए। वहीं उषा पांडे को सर्वश्रेष्ठ नृत्य का पुरस्कार दिया गया।

समारोह के संपन्न होने के बाद विभागाध्यक्ष डॉ. गिरीश रंजन तिवारी ने कहा कि डीएसबी परिसर के इस विभाग की कामयाबी के पीछे छात्र है। उनकी कामयाबी से इस विभाग को आगे बढ़ने में काफी मदद दी है। उन्ही के वजह से राज्य में इस विभाग को पहचान मिल रही है।