फाइनल ईयर के मेडिकल छात्र की कोरोना से मौत, तीन हफ्ते पहले लगवाया था वैक्सीन का डोज़

नई दिल्ली: कोरोना वैक्सीनेशन प्रोग्राम पूरे देश में अच्छे ढंग से संचालित किया जा रहा है। नेता, सेलेब्रिटी और अधिकारीगण, हर कोई कोराना का टीका लगवा रहा है। साथ ही आमजन से अपील की जा रही है कि इसका कोई भी दुषप्रभाव नहीं है। मगर इसी बीच वैक्सीन को लेकर एक बड़ी खबर आई है। पटना के एक छात्र की वैक्सीन लगने के बाद भी कोरोना से मौत हो गई।

पटना के नालंदा मेडिकल कॉलेज में पढ़ रहे फाइनल ईयर के शुभेंदु सुमन की बेगुसराय में मौत हो गई है। मीडिया रिपोर्ट्स के अनुसार उनकी मौत कोरोना के कारण हुई है। 23 साल के शुभेंदु सुमन की मौत से कई तरह के सवाल उठ रहे हैं। ऐसा इसलिए क्योंकि उन्होंने मात्र 22 दिनों पहले ही कोवैक्सीन का पहला टीका लगवाया था।

यह भी पढ़ें: जसप्रीत बुमराह करने जा रहे हैं शादी,इसलिए BCCI ने दी छुट्टी, स्पो‌र्ट्स एंकर से होगी शादी !

यह भी पढ़ें: टिहरी और हल्द्वानी के दो लोग हैं लापता, परिवार को चाहिए आपकी सहायता, शेयर करें

शुभेंदु सुमन ने फरवरी के पहले हफ्ते में कोरोना का टीका लगवाया था। मगर उसके बावजूद वह 25 फरवरी को हुई जांच में कोरोना संक्रमित पाए गए। जिसके बाद वह अपने घर बेगुसराय आ गए। फिर उन्हें 27 फरवरी को स्थानीय अस्पताल में भर्ती करवाया गया।

मीडिया के मुताबिक इस मेडिकल कॉलेज में अब तक 15 छात्र पॉजिटिव आ चुके हैं और इनमें से बहुत सारे छात्रों ने कुछ हफ्ते पहले ही वैक्सीन की पहली डोज ली थी। वैक्सीन लेने के बाद भी कोरोना से मौत होने के कारण हड़कंप मच गया है। खबरों से हर राज्य में भय का प्रसार हो रहा है। लिहाज़ा अब इस मेडिकल कॉलेज के सभी छात्रों का आरटीपीसीआर टेस्ट कराया जा रहा है।

थोड़ा पीछे जाएं तो 16 जनवरी से कोरोना वैक्सीनेशन शुरू किया गया है। पहले चरण में लाखों हेल्थकेयर वर्कर्स और फ्रंटलाइन वर्कर्स को टीका लगाया गया था। एक मार्च से शुरू हुए दूसरे चरण में 60 से ज्यादा उम्र के लोगों और गंभीर बीमारियों से जूझ रहे 45 से ऊपर की उम्र के लोगों को टीका लगाया जाएगा।

यह भी पढ़ें: इन दो जगहों पर बनेंगे नए विश्वविद्यालय, उत्तराखंड कैबिनेट ने दी मंजूरी

यह भी पढ़ें: TV9 भारतवर्ष की जीत में चमके मधुर और संत प्रसाद, न्यूज 18 का 3-0 से किया क्लीन स्वीप

यह भी पढ़ें: SSP प्रीति प्रियदर्शिनी का नया आइडिया कराएगा पुलिस अधिकारियों-कर्मचारियों की दोस्ती

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड रोडवेज 90 करोड़ की वसूली तीन हज़ार कर्मचारियों से करेगा,सामने आई अहम जानकारी

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now