DM ने प्लास्टिक के कप से पी चाय, फिर खुद के ऊपर लगाया 5 हजार का जुर्माना

नई दिल्ली: महाराष्ट्र के बीड जिले से एक मामला सामने आया है, जहां डीएम ने खुद का 5 हजार का चालान काट दिया। इस खबर से हर कोई सकते में हैं। डीएम ने अपना चालान इसलिए काटा क्योंकि उन्होंने प्रेस कॉफ्रेंस में प्लास्टिक के ग्लास से चाय पी थी। लोग डीएम की ईमानदारी की चर्चा कर रहे हैं। खबर के मुताबिक,बीड जिले में तैनात कलेक्टर का नाम आस्तिक कुमार पांडे है। ये राज्य का पहला मामला है, जब किसी कलेक्टर ने खुद के खिलाफ कार्रवाई की है।

जिला कलेक्टर आस्तिक कुमार पांडे ने बीड जिले में चुनाव के सिलसिले में प्रेस कॉंन्प्रेस बुलाई थी। इस दौरान कर्मचारियों ने मेहमानों को चाय देते समय प्लास्टिक मिश्रित कप का इस्तेमाल किया। वहां मौजूद सभी पत्रकारों को प्लास्टिक के कप में चाय दी गई। हालांकि, आधे से अधिक पत्रकारों ने चाय पीने से इनकार कर दिया। तभी, एक रिपोर्टर ने कलेक्टर के अनुरोध के बाद एक सवाल उठाया। उनका सवाल था कि एक गरीब किसान उम्मीदवार ने अपनी जमा राशि का भुगतान करने के लिए प्लास्टिक की थैली का इस्तेमाल किया था जो उसका 5000 रुपए का जुर्माना लगाया गया था।

पत्रकार ने इस घटना का जिक्र करते हुए कलेक्टर कार्यालय में प्लास्टिक मिश्रित कप के उपयोग के बारे में सवाल किया, जो कि प्रतिबंधित है। इसके बाद जिला कलेक्टर ने वहां उपस्थित सभी पत्रकारों के सामने खुद पर पांच हजार रुपये का जुर्माना लगा दिया। बता दें कि प्लास्टिक प्रतिबंध के संदर्भ में, महाराष्ट्र में सख्त नियम और कानून बनाए जा रहे हैं। हालांकि, यह सवाल उठता है कि प्लास्टिक के मिक्सिंग कप का उपयोग कैसे किया जाएगा।

यह भी पढ़ेंः पहाड़ की बेटी ने किया ऐसा कमाल, की झूम उठा सारा बॉलीवुड

यह भी पढ़ेंः विजय हजारे: सिलेक्ट हुए खिलाड़ी का नाम काटा, उत्तराखण्ड क्रिकेट में तूफान के संकेत!

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः पत्नी ने पति का किया कत्ल, लोगों ने महिला को घर में किया कैद

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी की बेटी ने किया शहर का नाम रोशन, जीता ब्यूटी खिताब