तार-तार हुई सोशल डिस्‍टेंशिंग, यहां उमड़ पड़े हजारों मजदूर

गाजियाबाद मजदूरों की भारी भीड़ कई जगह आकर जुट जाती हैं, जिससे संक्रमण के फैलने का और बड़ा खतरा मंडराने लगता है।

नई दिल्‍ली: देश में कोरोना वायरस महामारी के चलते लॉकडॉउन का चौथ चरण लागू हो गया है और पिछले कई दिनों को लगातार प्रवासी श्रमिकों को अलग-अलग राज्‍यों से भेजा उनके गृह राज्‍यों में भेजा जा रहा है, लेकिन सरकारी संसाधन इतने कम पड़ रहे हैं, वहीं मजदूरों की भारी भीड़ कई जगह आकर जुट जाती हैं, जिससे संक्रमण के फैलने का और बड़ा खतरा मंडराने लगता है। ऐसा ही कुछ सोमवार को गाजियाबाद में हुआ है।

गाजियाबाद के रामलीला मैदान में जुटी हजारों श्रमिकों की इस भीड़ के लोग अपने घर जाने के लिए बुरी तरह बेकरार हैं और कोरोना महामारी के चलते लागू लॉकडॉउन के नियमों की धज्जियां यहां उड़ती हुई नजर आईं।

दरअसल, ये मजदूरों की भीड़ गाजियाबाद के रामलीला मैदान में अपना रजिस्‍ट्रेशन करवाने आए हैं ताकि वे ट्रेन से अपने-अपने गांव जा सकें। गाजियाबाद से श्रमिकों को उत्‍तर प्रदेश विभिन्‍न इलाकों के लिए तीन श्रमिक स्‍पेशल ट्रेन से भेजा जाना हैं। व्‍यवस्‍था में जुटे पुलिसकर्मी इस भीड़ को संभाल नहीं पाए।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now