रिश्तेदार की पत्नी, रोहित शेखर की पत्नी और रोहित की मौत, मर्डर केस में एक और मोड़

नई दिल्ली:उत्तर प्रदेश और उत्तराखंड के पूर्व मुख्यमंत्री नारायण दत्त तिवारी के बेट रोहित शेखर तिवारी की हत्या का मामला रोज नए नए खुलासे कर रहा है। पोस्टमार्टम के बाद जो सामने आ रहा है उसके बाद पुलिस की जांच रोहित शेखर की पत्नी अपूर्वा पर टिक गई है। इस मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की टीम को पूछताछ में पता चला है कि रोहित और उनकी पत्नी अपूर्वा के संबंध काफी वक्त से अच्छे नहीं चल रहे थे।

इस रिश्ते के बीच कोई तीसरी महिला का नाम भी सामने आ रहा है। रोहित की अपने रिश्तेदार की पत्नी से नजदीकियां थीं। इसपर दोनों के बीच अक्सर मन-मुटाव रहता था। पुलिस को यह भी शक है कि हत्या वाले दिन भी इसपर जमकर बहस हुई होगी। यह भी सामने आया है कि हत्या की रात रोहित के कमरे से आखिरी बार निकलने वाली उनकी पत्नी ही थी। फिलहाल पुलिस अपनी जांच कर रही है और इस मामले के खुलासे के लिए कोई जल्दबाजी नहीं करना चाहती है।

क्राइम ब्रांच की टीम (शनिवार 20 अप्रैल 2019) को डिफेंस कॉलोनी स्थित रोहित के घर पहुंची तो कई अहम जानकारियां हाथ लगी। उन्होंने परिवार के सदस्यों, नौकरों और ड्राइवर से पूछताछ की। सभी के बयान दर्ज कर लिए गए हैं। अब इन बयानों को फोन कॉल और मोबाइल इंटरनेट डिटेल्स से मिलाया जाएगा।

क्राइम ब्रांच के अधिकारियों ने करीब तीन घंटे तक रोहित की पत्नी अपूर्वा से पूछताछ की। इस दौरान कुछ प्रश्नों के उत्तर अपूर्वा ने नहीं दिए। खासतौर पर रोहित से संबंधों पर स्पष्ट उत्तर नहीं दिया। इसके अलावा पुलिस ने अपूर्वा से रोहित के व्यवहार, उसकी रंजिश, परिवार के अन्य सदस्यों से संबंध एवं संपत्तियों के विषय में जानकारी हासिल की। वहीं, शाम को पुलिस की टीम रोहित की मां उज्जवला को अपने साथ तिलक मार्ग थाना लेकर गई लेकिन एक घंटे में वापस लौटकर आ गई।

बता दें कि पोस्टामर्टम रिपोर्ट में रोहित की मौत को अस्वाभाविक करार दिया गया है। जिसके बाद पुलिस ने हत्या का केस दर्ज जांच शुरू की है। वहीं रोहित की मां उज्जवला ने शनिवार को कहा था कि उनके बेटे और पत्नी के बीच रिश्ते ठीक नहीं थे दोनों की लव मैरिज थी। वह तनाव में रहता था। पुलिस ने जांच में पाया कि रोहित और अपूर्वा सुप्रीम कोर्ट में वकील थे। वहां पर ही दोनों की पहली बार मुलाकात हुई थी जिसके बाद दोनों ने परिवारों की सहमति पर पिछले साल शादी कर ली थी।  रोहित की मौत 16 अप्रैल को हुई थी। पोस्टमॉर्टम में सामने आया था कि रोहित की मौत हॉस्पिटल लाने से 15-16 घंटे पहले हो गई थी।