LOCKDOWN:गृह मंत्रालय का आदेश, इस तरह से वापस लाए जाएंगे बाहर फंसे लोग

नई दिल्ली: लॉकडाउन के दौरान देश के अलग-अलग जगह पर फंसे छात्र, मजदूर, टूरिस्ट और श्रद्धालूओं के लिए राहत भरी खबर है।केंद्रीय गृह मंत्रालय ने उन्हें वापस लाने की प्रक्रिया के तहत सभी  राज्यों और केंद्र शासित प्रदशों को नया आदेश जारी किया है। गृह मंत्रालय ने कहा कि दूसरी जगह फंसे लोगों को वापस लाने के लिए उनका मेडिकल चैकअप होगा। उन्हें अगर एक जगह से दूसरी जगह ले जाया जाता है तो सामाजिक दूरी के नियम का पालन करना होगा। लोग अपने-अपने घर पहुंचेंगे तो उन्हें होम क्वॉरन्टीन में रहना होगा।

मंत्रालय के आदेश में कहा गया है कि ट्रांसपोर्ट के लिए बस चलाई जाएगी। बस के भीतर बैठाए जाने के दौरान सोशल डिस्टेंसिंग का पालन करना होगा। जब कोई शख्स अपने लोकेशन तक पहुंच जाएगा तो वहां की लोकल हेल्थ अथॉरिटी उस पर नजर बनाए रखेंगी। जब तक इंस्टीट्यूशनल क्वॉरन्टीन की जरूरत न हो उन्हें होम क्वॉरन्टीन में रहना होगा।

फंसे हुए लोगों का एक समूह अगर एक राज्य से दूसरे राज्य जाने के लिए भेजने वाले और रिसीव करने वाले राज्य एक दूसरे से संपर्क कर सकते हैं । ट्रांसपोर्ट के लिए एक दूसरे की सहमती बन सकती है। इसके साथ ही गृहमंत्रालय ने सभी राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों को इसके लिए नोडल ऑथोरिटी नियुक्त करने को कहा है। लोगों को भेजने और रिसीव करने के लिए एक स्टैंडर्ड प्रोटकॉल बनेगा और उसका पालन करना अनिवार्य होगा। फंसे लोगों को उनके लोकेशन तक पहुंचाए जाने के क्रम में जिन राज्यों-केंद्र शासित प्रदेशों से होकर ये आवाजाही होगी उन्हें इसकी इजाजत देनी होगी।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now