रोहित शेखर मर्डर केस में नया टर्न, मां उज्जवला के बयान ने बढ़ाई पत्नी की मुश्किले !

नई दिल्ली: पूर्व मुख्यमंत्री एनडी तिवारी के बेटे रोहित शेखर तिवारी की हत्या के मामले में मां उज्जवला ने बड़ा बयान दिया है। मामले की जांच कर रही क्राइम ब्रांच की टीम को उज्जवला ने बताया है कि रोहित की हत्या के पीछे पत्नी अपूर्वा का हाथ है। अपूर्वा की नजर रोहित की संपत्ति पर थी और इसलिए उन दोनों के रिश्ते अच्छे नहीं थे। उन्होंने ये भी कहा है कि जांच को दूसरी दिशा में ले जाने के लिए रोहित के संबंध किसी और महिला के साथ जोड़े जा रहे हैं।

रोहित के भाई सिद्धार्थ की शादी नहीं हुई है और इसे देखते हुए अपूर्वा के मन में संपत्ति का लालच था। वहीं सिद्धार्थ अपने हिस्से की संपत्ति को ओएसडी राजीव के पुत्र के नाम करना चाहते थे और अपूर्वा इस बात के लिए राजी नहीं थी। राजीव और उनकी पत्नी ने हमारे परिवार के लिए जो किया है वो कभी नहीं भूल सकते हैं और इसलिए सिद्धार्थ उन्हें हिस्सा देना चाहते थे। रोहित की मौत के बाद खुद को बचाने के लिए अपूर्वा राजीव की पत्नी और रोहित के बीच के रिश्ते को गंदा साबित करने में जुटी हुई है।अपूर्वा पूरी संपत्ति  पर अपना मालिकाना हक लेना चाहती है।

रोहित की मां उज्जवला पहले ही बता चुकी हैं कि रोहित और अपूर्वा के रिश्ते शादी के बाद से ही अच्छे नहीं रहे हैं। दोनों के बीच कभी पति-पत्नी वाला प्यार नहीं रहा। इस बात की पड़ताल करने में भी सामने आया है कि रोहित और अपूर्वा की शादी के बाद साथ में कोई भी तस्वीर नहीं है। अभी तक जितनी बाते सामने आ रही है वो अपूर्वा के लिए संकट बढ़ा रही है। फिलहाल क्राइम ब्रांच की ओर से कोई बयान सामने नहीं आया है और वो परिजनों ने लगातार पूछताछ कर रही है।

बता दें कि शनिवार को दिल्ली क्राइम ब्रांच की टीम ने लगातार 8 घंटे तक रोहित शेखर उसकी पत्नी अपूर्वा, ओएसडी राजीव, घरेलू नौकर गोलू और ड्राइवर अभिषेक सहित भाई सिद्धार्थ से भी लंबी पूछताछ की थी। रोहित के ससुर पद्माकर शुक्ला ने अपनी बेटी अपूर्वा का बचाव करते हुए कहा कि वह ऐसा नहीं कर सकती है। वो काफी शांत स्वभाव की है और अपने परिवार से काफी प्यार करती है।