नई दिल्ली: प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने कोरोना वायरस के खिलाफ बड़ा ऐलान किया है। पीएम ने पूरे देश में 21 दिन के लिए लॉक डाउन करने का ऐलान किया है। उन्होंने कहा कि यह लॉक डाउन जनता CURFEW ने ज्यादा बड़ा होगा और सख्ती से इसका पालन किया जाएगा। उन्होंने कहा कि आज हमें केवल अपने आप के बारे में नहीं पूरे देश के बारे में सोचना है और इसलिए हम इतना बड़ा फैसला ले रहे हैं। कोरोना वायरस की साइकिल को तोड़ना जरूरी है। लॉक डाउन को बुधवार 12 Am से लागू किया जाएगा। पीएम मोदी ने कहा कि हमें 21 दिन तक पूरे देश की मदद करनी है और इस बीमारी को हराना है। उन्होंने कहा कि अगर हम ऐसा नहीं करेंगे तो ये देश 21 साल पीछे चला जाएगा। उन्होंने कहा कि हम उस जगह पर हैं कि हम इस आपदा के प्रभाव को कितना कम कर सकते हैं। अपने देश के लिए हमें इस संकल्प को पूरा करना होगा। उन्होंने कहा कि घरों में रहकर उन लोगों के बारे में सोचिए और मंगलकामनाएं करिए जो हमारे लिए अपनी जान को खतरे में डाल रहे हैं। इस दौरान उन्होंने मेडिकल सर्विस, पुलिसकर्मी, मीडियाकर्मी और सफाई कर्मचारियों का भी जिक्र कर धन्यवाद किया।

निश्चित तौर पर इस लॉकडाउन की एक आर्थिक कीमत देश को उठानी पड़ेगी, लेकिन एक-एक भारतीय के जीवन को बचाना इस समय मेरी, भारत सरकार की, देश की हर राज्य सरकार की, हर स्थानीय निकाय की, सबसे बड़ी प्राथमिकता है। 22 मार्च को जनता कर्फ्यू का जो संकल्प हमने लिया था, एक राष्ट्र के नाते उसकी सिद्धि के लिए हर भारतवासी ने पूरी संवेदनशीलता के साथ, पूरी जिम्मेदारी के साथ अपना योगदान दिया। पूरे देश की प्राथमिकता हेल्थ ही होनी चाहिए। उन्होंने कहा कि खाने-पीने की व्यवस्था सरकार द्वारा की गई है । इस समस्या से निपटने के लिए 15 हजार करोड़ रुपए का ऐलान पीएम ने किया। पीएम ने निजी चिकित्सालयों से भी की सहयोग करने के अलावा जनता से अपील की। उन्होंने कहा कि वह अफवाहों पर न दें ध्यान, इस बीमारी में डॉक्टरों की सलाह के बिना कोई दवा ना लें, सरकार एवं शासन प्रशासन के नियमों का पालन करें।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now