नई दिल्ली: आज उत्तरप्रदेश के मुख्यमंत्री योगी आदित्याथ के पिता आनन्द सिंह बिष्ट का निधम हो गया है। वह लंबे वक्त से बीमार चल रहे थे। जिस वक्त सीएम योगी को उनके निधन के बारे में पता चला वह बैठक में थे और उन्होंने उसे जारी रखा। मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ के पिता आनंद सिंह बिष्ट (89) का सोमवार सुबह 10:44 बजे दिल्ली एम्स में निधन हो गया। लीवर और किडनी में समस्या के कारण उन्हें 13 मार्च को एम्स में भर्ती कराया गया था। लेकिन मल्टीपल ऑर्गन फेल होने से रविवार देर रात हालत ज्यादा बिगड़ गई। आनंद सिंह का अंतिम संस्कार उत्तराखंड स्थित पैतृक गांव पंचूर में मंगलवार को होगा। देश में लॉकडाउन लागू है और इस वजह से सीएम योगी पिता के अंतिम दर्शन के लिए उत्तराखंड नहीं जा पाएंगे। उन्होंने परिवार से अपील की है कि सामाजिक दूरी का पालन करें।

सीएम योगी आदित्यनाथ को पिता के निधन की जानकारी मिली तो उस दौरान वो टीम 11 की बैठक ले रहे थे। इस घटना की जानकारी मिलने के बाद सीएम की आंखें कुछ देर के लिए नम हो गई।  वह बात करते हुए मास्क को नीचे करते हैं लेकिन आज उन्होंने बात करते हुए मास्क लगाया था। शायद वो अपनी भावना व्यक्त नहीं करना चाहते हैं। उनपर करोड़ो लोगों की सुरक्षा का हिम्मा है और इस वजह से उन्होंने परिवार को पीछे रखा। सीएम योगी ने लॉकडाउन के बीच कई ऐसे फैसले लिए हैं जिनकी चर्चा पूरे देश में हो रही है। पिता के निधन की जानकारी सीएम योगी को मुख्यमंत्री के सबसे करीबी शख्स यानी बल्लू राय ने दी।

मुख्यमंत्री योगी ने परिवार को एक मार्मिक पत्र लिखा है। इसमें उन्होंने कहा- ‘अपने पूज्य पिताजी के जाने का मुझे दुख हैं। वे मेरे पूर्वाश्रम के जन्मदाता थे। अंतिम क्षणों में उनके दर्शन करने की इच्छा थी लेकिन कोरोनावायरस के खिलाफ देश की लड़ाई को यूपी की 23 करोड़ जनता के हित में आगे बढ़ाने का कर्तव्यबोध के कारण मैं नहीं पहुंच सका। अंतिम संस्कार में लॉकडाउन की सफलता और कोरोना को परास्त करने की रणनीति के कारण घर नहीं आ पाऊंगा। आप सभी अंतिम संस्कार में कम से कम लोग शामिल हों। लॉकडाउन के बाद घर आऊंगा।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now