MDH मसालों के मालिक धर्मपाल गुलाटी के निधन की उड़ा दी गई अफवाह

मसालों के किंग के रूप में चर्चित एमडीएच के मालिक महाशय धर्मपाल गुलाटी के निधन की अफवाह उड़ी।

मुम्बईः एमडीएच मसालों के विज्ञापनों में दिखाई देने वाले एमडीएच के मालिक चुन्नी लाल का शनिवार को अस्पताल में निधन हो  होने की अफवाह उड़ा दी गई है। उनका असली नाम महाशय धर्मपाल गुलाटी है।यह खबर सोशल मीडिया पर वायरल हो गई लेकिन इसमें कोई सच्चाई नहीं है। उनके परिवार की ओर से जारी वीडियो में धर्मपाल ने संदेश जारी करते हुए कहा है कि वह एकदम स्वस्थ हैं। परिवार की ओर से वीडियो जारी हो गया है.  इसके साथ ही एनडीटीवी से उनके दामाद सुभाष शर्मा की बात हुई है उन्होंने बताया कि किसी ने उनके पिता चुन्नीलाल की फोटो लगाकर उनके निधन की अफवाह फैला दी।

बता दें कि धर्मपाल गुटाली का जन्म पाकिस्तान के सियालकोट में 1922 को मौहल्ला मियानापुर में हुआ। बंटवारे के बाद उनका परिवार दिल्ली आ गया और फिर उन्होंने मसाले का काम शुरू किया और आज एमडीएच मसाला देश ही नहीं, बल्कि दुनिया में मसालों के लिए जाना जाता है।

भारत-पाकिस्तान के बंटवारे के बाद दिल्ली में उन्होंने किराया लेकर तांगा चलाने का काम किया और धीरे-धीरे मसालों के कारोबार में आ गए। महाशय धर्मपाल गुलाटी उर्फ चुन्नी लाल एक सफल उद्योगपति थे तथा उन्होंने अपने जीवन में कडा संघर्ष किया था। 1959 में महाशय धर्मपाल ने दिल्ली के कीर्ति नगर में मसाला पीसने की फैक्ट्री लगाई और फिर कारवां चलता चला गया- आज एमडीएच की देशभर में 15 फैक्ट्री हैं।

एक रिपोर्ट के अनुसार, वर्ष 2017 में धर्मपाल गुलाटी सबसे ज्यादा बिकने वाले एफएमसीजी प्रोडक्ट के सीईओ बने। सबसे खास बात यह है कि इस ऊंचाई तक पहुंचने वाले धर्मपाल गुलाटी ने मात्र पांचवी कक्षा तक की ही पढ़ाई की थी। इसके बाद उन्होंने स्कूल छोड़ दिया था और अपने पिता की दुकान पर बैठने लगे थे।

धर्मपाल गुलाटी ने 1953 में चांदनी चौक में एक और दुकान किराए पर ली। इसके बाद जब कारोबार बढ़ने लगा तो 1959 में कीर्ति नगर में एक प्लॉट खरीद फैक्ट्री शुरू कर दी। आज एमडीएच पूरी दुनिया में मशहूर है।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now