नवंबर में खुल सकते हैं उत्तराखंड के कॉलेज, हफ्तेभर में फैसला लिया जाएगा

उच्चशिक्षा राज्यमंत्री रावत ने कहा कि सभी विश्वविद्यालयों को नवंबर माह में संस्थानों के संचालन के लिए खुद को तैयार रखना होगा।

नवंबर में खुल सकते हैं उत्तराखंड के कॉलेज, हफ्तेभर में फैसला लिया जाएगा

देहरादून: स्कूल खुलने को लेकर फैसला हो गया है। अब कॉलेज खोलने की तैयारी है। सचिवालय के वीर चंद्र सिंह गढ़वाली सभागार में उच्च शिक्षा राज्यमंत्री (स्वतंत्र प्रभार) डॉ. धन सिंह रावत की अध्यक्षता में सरकारी व निजी विश्वविद्यालयों के साथ विभागीय अधिकारियों की बैठक हुई। इस दौरान उच्च शिक्षण संस्थानों को खोलने के संबंध में चर्चा की गई। उच्चशिक्षा राज्यमंत्री रावत ने कहा कि सभी विश्वविद्यालयों को नवंबर माह में संस्थानों के संचालन के लिए खुद को तैयार रखना होगा। केंद्र से निर्देश मिलने पर मुख्यमंत्री से चर्चा के बाद हफ्तेभर में निर्णय लिया जाएगा।

यह भी पढ़े:पहाड़पानी से हल्द्वानी: प्रेमी से मिलने पहुंची तीन बच्चों की मां, प्रेमी मंगलसूत्र लेकर फरार

यह भी पढ़े:एक और अच्छी खबर, नवरात्र के साथ नोएडा से उत्तराखंड के लिए बस सेवा शुरू

बैठक में मुख्य रूप से सरकारी और निजी विश्वविद्यालयों को नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्म की राष्ट्रीय रैंकिंग में लाने का लक्ष्य तय किया गया। मंत्री ने कहा कि अगले साल तक दस सरकारी व निजी विश्वविद्यालयों को राष्ट्रीय रैंकिंग में उचित स्थान दिलाया जाना है। वहीं राज्यमंत्री रावत के आग्रह पर कुमाऊं विश्वविद्यालय के कुलपति प्रो. एनके जोशी ने अपने प्रस्तुतीकरण के द्वारा बताया कि राष्ट्रीय रैंकिंग में कैसे उचित स्थान प्राप्त किया जा सकता है। प्रो. जोशी की ओर से निजी एवं सरकारी विश्वविद्यालय के उपस्थित कुलपतियों का अपने प्रस्तुतिकरण द्वारा मार्गदर्शन किया गया। इसके साथ ही प्रो. जोशी द्वारा कुमाऊं विश्वविद्यालय की ओर से की जा रही तैयारियों पर भी प्रस्तुतीकरण दिया गया।

यह भी पढ़े:पर्यटन से जुड़े कर्मचारी व ई रिक्शा चालकों को उत्तराखंड सरकार 1-1 हजार रुपए देगी

यह भी पढ़े:आर्मी लवर के लिए खुशखबरी:कुमाऊं रेजीमेंट में 28 दिसंबर से सेना भर्ती रैली

बता दें कि कुमाऊं विश्वविद्यालय को नेशनल एसेसमेंट एण्ड एक्रिडिटेशन काउंसिल (NAAC) से “ए” ग्रेड प्राप्त है। इंडिया टुडे ग्रुप की ओर से कराए सर्वे में भी कुमाऊं विश्वविद्यालय को 27वां स्थान मिला है। साथ ही फार्मेसी विभाग ने नेशनल इंस्टीट्यूशनल रैंकिंग फ्रेमवर्म में 75वां स्थान प्राप्त किया है। कुलपति जोशी ने बताया कि कुमाऊं विश्वविद्यालय को राष्ट्रीय रैंकिंग में शीर्ष स्थान पर लाने के साथ ही शिक्षा, शोध एवं नवाचार के क्षेत्र में सम्मानजनक स्थान दिलाना मेरी प्राथमिकता है। इस लक्ष्य को हासिल करने के लिए हर संभव प्रयास किये जायेंगे।

यह भी पढ़े:TV पर दिखाई देगा पहाड़ का युवा,चंपावत जिले के शुभम का इंडिया टैलेंट फाइट-2 में चयन

यह भी पढ़े:बागेश्वर के सक्षम रौतेला शतरंज में कमाल,इंटरनेशनल खिताब जीता

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now