कोरोना के बीच हल्द्वानी में रामलीला शुरू, फेसबुक पर होगा लाइव प्रसारण

हल्द्वानी: कोरोना वायरस को भारत में प्रवेश किए अब लगभग आठ महीने पूरे होने को हैं। कोरोना काल में उत्पन्न मुश्किलों व खुद कोरोना बीमारी से लड़ाई अभी भी जारी है। मगर शासन-प्रशासन एवं लोगों में माहौल को ले कर अब सकारात्मकता वापसी कर रही है। एक लंबे समय से महामारी से जूझ रहे वातावरण में धीरे धीरे ही सही मगर नाॅर्मल जीवन की गाड़ी पटरी पर लौटती दिखाई ज़रूर दे रही है। समस्त त्यौहारों से भरा वक्त हमारे आगे है। शारदीय नवरात्रि का शुभारंभ हो चला है। हर साल इन दिनों शहरों में काफ़ी रौनक देखने को मिलती है। इसकी मुख्य वजह रहता है हल्द्वानी के रामलीला मैदान में होने वाला भव्य रामलीला आयोजन। कोरोना काल के चलते इस वर्ष रामलीला के आयोजन पर काफ़ी तरह की अटकलें लगाई जा रही थी। तमाम अटकलों को अब आराम करने का समय आ चला है। जानकारी के मुताबिक आज से रामलीला मैदान में शुरू होगा रामलीला मंचन।

यह भी पढ़े:नैनीताल:एलटी शिक्षक व प्रवक्ता के पदों में आई भर्ती, तब आई डिग्री लेने की याद

यह भी पढ़े:पर्यटन से जुड़े कर्मचारी व ई रिक्शा चालकों को उत्तराखंड सरकार 1-1 हजार रुपए देगी

शारदीय नवरात्रि के प्रथम दिन से ही शहर के रामलीला मैदान में भव्य रामलीला का शुभारंभ होगा। ध्वज स्थापना का समय शनिवार सुबह नौ बजे निर्धारित किया गया है। रामलीला का प्रतीकात्मक मंचन रोज़ाना शाम पांच से सात बजे तक होगा। शुक्रवार शाम को प्रभारी रिसीवर एसडीएम विवेक राय, एसपी सिटी अमित श्रीवास्तव एवं सीओ शांतनु पराशर ने आयोजन समिति के सदस्यों के साथ रामलीला मंचन के स्वरूप पर चर्चा की व रामलीला मैदान का जायज़ा भी लेते नज़र आए।

यह भी पढ़े:काठगोदाम-हल्द्वानी से दिल्ली के लिए चलेगी शताब्दी एक्सप्रेस, 20 तारीख से होगा संचालन

यह भी पढ़े:आर्मी लवर के लिए खुशखबरी:कुमाऊं रेजीमेंट में 28 दिसंबर से सेना भर्ती रैली

खबरों के अनुसार व्यास गद्दी पर विराजमान पंडित गोपाल भट्ट शास्त्री श्रीरामचरितमानस का पाठ करेंगे। कोरोना महामारी के प्रकोप के मद्देनज़र दर्शकों और जनता को रामलीला के दौरान मैदान में प्रवेश की अनुमति नहीं होगी। केवल रामलीला आयोजन कर रहे या आयोजन से जुड़े लोगों को ही मैदान में आने की इजाज़त होगी। जिसमें होंगे रामलीला से जुड़े पात्र, मेकअप आर्टिस्ट एवं व्यवस्थाओं से जुड़े संचालन समिति के सदस्य। रामलीला से जुड़े लोगों को भी परिचय पत्र के साथ आना होगा, तभी प्रवेश की अनुमति मिलेगी।

यह भी पढ़े:उत्तराखंड पुलिस के जवान मोहन सिंह रावत ने MPL ड्रीम 11 में जीते 5 लाख रुपए

यह भी पढ़े:उत्तराखंड: महिलाएं परिवार संग स्टार्टअप भी चला सकती हैं, ग्राम प्रधान प्रियंका पांडे की कहानी

प्रशासन का कहना है रामलीला मंचन का सम्पूर्ण आयोजन कोविड-19 की तमाम गाइडलाइन्स को देख कर किया गया है। रामलीला का सीधा प्रसारण हल्द्वानी डिजिटल सर्विस के केबल एवं फेसबुक पर होगा। रामलीला को देखते हुए मैदान में आमतौर पर होती गाड़ियों की पार्किंग भी अब शाम चार से रात आठ बजे तक बंद रहेगी।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now