हल्द्वानी: मौजूद वक्त में युवाओं में कुछ नया करने की होड़ लगी हुई है। स्टार्टअप का क्रेज हर भारतीय युवाओं के अंदर उत्साह पैदा कर रहा है। कोई इसे धरातल पर लाने में कामयाब हुआ है और कोई जोखिम से बचने के रास्ते खोज रहा है। यह एक ऐसी सोच है जो कभी भी आपकों अलग रास्ते पर यात्रा करवा सकती है।

एक ऐसे ही स्टार्टअप हम आपके सामने रख रहे हैं। क्या आप सोच सकते है कि 10वीं और 12वीं में 90 प्रतिशत लाने वाला व्यक्ति चाय की दुकान खोलेगा? अधिकतर लोगों का उत्तर नहीं होगा, लेकिन हल्द्वानी शहर में विपुल ब्लुटिया नाम के युवक ने कुछ ऐसा ही किया। शहर के सबसे बड़े स्कूलों में से एक आर्यमान विक्रम बिरला में 10वीं (91.2%) और 12वीं ( 92.8%) में टॉप करने वाला विपुल आज शहर और सैलानियों को चाय पिला रहा है।

काठगोदाम निवासी राजेश ब्लुटिया और गीता ब्लुटिया के पुत्र विपुल का नैनीताल हाईवे पर ” चाय लोक” नाम का कैफे है जो शहर में चाय के लिए काफी विख्यात है। विपुल ने एक साल पहले इसकी शुरुआत की और आज वो अपने फैसले से संतुष्ट है। स्कूल की पढ़ाई के बाद विपुल ने दिल्ली विश्वविद्यालय ने ग्रेजुएशन किया।

इसके बाद उन्होंने मल्टीनेशनल कंपनी में जॉब की लेकिन चाय के प्यार ने टॉपर को चाय बेचने वाला बना दिया। इस स्टार्टअप के बारे में विपुल ने बताया कि वो बचपन से चाय के दिवाने रहे है। भारत में चाय कॉफी से ज्यादा पी जाती है। इसी को देखते हुए चाय लोक नाम से स्टार्टअप  शुरू किया। चाय पिने के लिए सबसे पहले लोग आराम खोजते है और रेस्ट्रो को उसी प्रकार से बनाया गया।

रेस्ट्रो में ग्राहकों को ब्लैक , ग्रीन टी समेत  तुलसी ,अदरख और मसाला चाय पीने को मिल सकती है। इसके अलावा इस लिस्ट में आम,अनार,अंगूर, नींबू और स्टॉबेरी की आइस टी भी मौजूद है। रेस्ट्रो में एक चीज लोगों को खूब भा रही है वो है पहाड़ी बन मसाला।

चाय की चुस्की के साथ पहाड़ी बन मसाला ग्राहकों को पहाड़ की सैर कराएगा। रेट्रो का इन्टिरियर लुक भी पहाड़ी चाय की दुकान की याद दिलाता है। जहां केतली, सायकिल और दूध के बर्तन दिखाई देते है।

“चायलोक कैफे” के बारे में अधिक जानकारी ले…