उत्तराखंड: पोती को बचाने के लिए काली नदी में कूदी दादी,अबतक नहीं मिला कोई सुराग

पिथौरागढ़: जिले में रविवार को काफी ममता पूर्ण मगर दुखद घटना देखी गई। जनेऊ संस्कार में भाग लेने के लिए सीमू के लाटेश्वर मंदिर पहुंची दादी-पोती काली नदी में बह गए। पहले पोती का पैर फिसला, फिर दादी ने अपनी पोती को बचाने के चक्कर से नदी में छलांग मार दी। दोनों की खोजबीन जारी है।

पिथौरागढ़ जनपद के झूलाघाट से करीब 6 किमी की दूरी पर नेपाल सीमा से लगे कानड़ी ग्राम पंचायत के राजस्व गांव सीमू में काली नदी किनारे प्रमुख तीर्थस्थल लाटेश्वर मंदिर है। मंदिर में तरह तरह के कार्यक्रम होते रहते हैं। रविवार को गांव के एक किशोर का उपनयन संस्कार था। इस कार्यक्रम में भाग लेने के 52 वर्षीय तारा देवी पत्नी खड़क सिंह रावत और उनकी पोती 8 वर्षीय लतिका पुत्री सुरेश सिंह रावत भी आए थे।

यह भी पढ़ें: चंपावत का बेटा मायानगरी में छाया, बॉलीवुड दिग्गज जितेंद्र बोले कैसे कर लेते हो ये सब…

यह भी पढ़ें: देहरादून शताब्दी एक्सप्रेस हादसा,कोच अशोक ने ऐसे बचाई सभी लोगों की जान

हुआ यूं कि पोती लतिका को दोपहर एक बजे के आसपास प्यास लगी। प्यास लगी तो वह अपनी दादी के साथ काली नदी किनारे गई। पानी पीने के समय ही लतिका का पांव फिसल गया और वह नदी में बहने लगी। इसे देख दादी रुक नहीं पाई। उन्होंने बिना कुछ सोचे लमझे नदी में कूद मार दी। नदी का बहाव इतना तेज़ था कि दोनों नदी में बह गए।

आसपास में मौजूद लोगों को जब मामले की जानकारी हुई तो धीरे धीरे वहां भीड़ इकठ्ठा होनी शुरू हो गई। मामले के बारे में झूलाघाट थाने में भी बताया गया। मौके पर एसआइ चंद्र सिंह मेवाड़ी के नेतृत्व में पुलिस दल और सप्तड़ी एसएसबी चौकी से जवान भी पहुंचे। थानाध्यक्ष तारा सिंह राणा ने जानकारी दी थी कि एसडीआरएफ टीम को भी बुलाया गया है। बहरहाल दोनों की तलाश जारी है। लेकिन कोई सुराग नहीं मिल सका है।

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड:COVID वैक्सीन की दोनों डोज लगाने के बाद भी संक्रमित निकला अस्पताल का गार्ड

यह भी पढ़ें: अब मसूरी के इस क्षेत्र में लगा पूर्ण लॉकडाउन,कोरोना वायरस बढ़ा रहा है सिर दर्द

यह भी पढ़ें: हल्द्वानी:700 लोगों को राहत देगा सीएम रावत का फैसला, लॉकडाउन में हुई थी चूक

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड के अक्षज को गेंदबाजी सिखाएंगे जॉन बुकानन,ऑस्ट्रेलिया को जीता चुके हैं दो विश्वकप

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now