जनता की सुरक्षा के लिए उत्तराखंड पुलिस की नई पहल,पहाड़ी जिलों में गांव को गोद लेंगे थाने

हल्द्वानी: राज्य विकास के मार्ग पर चले और लोगों को सुरक्षा मिले इसके लिए डीजीपी अशोक कुमार लगातार प्रयास कर रहे हैं। पद संभालने के बाद वह कह चुके हैं कि पुलिस और जनता के बीच कॉर्डिनेशन को मजबूत किया जाएगा। इसके अलावा स्मार्ट पुलिसिंग के तहत कई प्लान को फ्लोर पर लाने की तैयारी भी है। इसी क्रम में डीजीपी ने एक नई मुहिम शुरू की है। इस मुहिम के तहत राज्य के 9 पर्तवीय जिलों में प्रत्येक थाना एक-एक गांव को गोद लेगा। इससे लोगों की परेशानियों का समाधान निकालने में आसानी होगी।

बता दें कि सोमवार को डीजीपी अशोक कुमार जनपद उत्तरकाशी एवं टिहरी गढ़वाल भ्रमण के दौरान जनसंवाद कार्यक्रम में पहुंचे। उन्होंने जनता की पुलिस सम्बन्धी समस्याओं एवं सुझावों को सुना और आवश्यक कार्यवाही का भरोसा दिलाया। उन्होंने कहा कि उनके जन संवाद कार्यक्रम का मुख्य उद्देश्य पुलिस की बेहतरी को लेकर स्थानीय लोगों से सुझाव लेना है। उन्होंने ड्रग्स, ट्रैफिक और साइबर क्राइम की समस्या से निपटने के लिए जन सहयोग और जागरूकता को जरूरी बताया।

इसी दौरान उन्होंने अपनी नई मुहिम के बारे में लोगों को बताया। उन्होंने कहा कि सभी 09 पर्वतीय जनपदों में प्रत्येक थाना एक-एक गाँव को गोद लेगा और उस गाँव की समस्याओं का समाधान करने में सहयोग करेगा। उत्तरकाशी के दूरस्थ केदारकांठा ट्रैक और धौंतरी में दो नई पुलिस चैकियां स्थापित करने का प्रस्ताव शासन को भेजा जा रहा है, जिससे इन दूरस्थ क्षेत्रों में किसी भी प्रकार की समस्या, घटना और दुर्घटना में स्थानीय लोगों और पर्यटकों को समय से पुलिस की मदद मिल सकेंगी। नशे को रोकने के लिए पुलिस प्रभावी कदम उठा रही हैं। इस हेतु जन जागरूकता अभियान भी चलाया जाएगा, जिससे लोगों को क्राइम से बचाया जा सके और युवाओं को सकारात्मकता की तरफ लाया जा सके।

डीजीपी अशोक कुमार ने दोनों जनपद में तैनात पुलिस जवानों की समस्याओं को भी सुना। इस दौरान उन्होंने उनके लिए चलाई जा रही योजनाओं की भी जानकारी दी। उन्होंने कहा कि जनता की पुलिस से हमेशा ही अपेक्षाएं रहती है उसके अनुरुप पुलिस को अपना कार्य पूर्ण निष्ठा एवं समर्पण के भाव से करना चाहिए। जन शिकायतों को शत प्रतिशत प्राप्त कर उनका निवारण करें जिससे समाज में पुलिस की छवि अच्छी होगी। ऐसा कार्य न करें जिससे कि पुलिस की छवि खराब हो। आम व्यक्ति के साथ पुलिस की मित्रता की मिसाल होनी चाहिए। बदमाशों के मन में पुलिस का डर होना चाहिए। साथ ही जवानों को आश्वस्त किया कि उनके कल्याण हेतु हैप्पीनेस कोन्सेन्ट की ओर उनका लगातार ध्यान है। उनके शिक्षा, स्वास्थ्य, आवास, अवकाश ,प्रमोशन आदि में लगातार सुधार किया जायेगा।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now