नैनीताल: कन्या इंटर कॉलेज में लगेगी सैनेटरी नैपकिन मशीन, डीएम ने दिए निर्देश

नैनीताल: डीएम नैनीताल विनोद कुमार सुमन ने शुक्रवार को जिला कार्यालय में राष्ट्रीय स्वास्थ्य कार्यक्रम की समीक्षा की। उन्होंने समीक्षा के दौरान चिकित्सा विभाग के अधिकारियों को निर्देशित किया कि इस महत्वपूर्ण कार्यक्रम का लाभ सभी किशोर एवं किशोरियो को मिले। उन्होंने कहा कि किशोर एवं किशोरियों को स्वास्थ्य के प्रति निःशुल्क जानकारी उपलब्ध करायी जाए तथा युवा वस्था में होने वाले शारीरिक एवं मानसिक बदलावों के विषय में भी जागरूक किया जाए तथा किशोर व किशोरियों में पोषण बढ़ाने, यौन प्रजनन और मातृ स्वास्थ्य के प्रति सजग करने, मानसिक स्वास्थ्य को बढ़ाने, किशोरों में क्षति और हिंसा की रोकथाम, नशावृति की रोकथाम के साथ ही गैर संचारी रोगों की रोकथाम हेतु गहन कार्य योजना बनाकर कार्य करना सुनिश्चित करें।

उन्होंने  कहा कि कार्यक्रम के परामर्शदाताओ द्वारा क्लीनिक के अतिरिक्त प्रत्येक माह स्कूलों का भ्रमण कर विद्यार्थियों के पोषण में सुधार, यौन एवं प्रजनन स्वास्थ्य, मानसिक स्वास्थ्य, चोट रहित हिंसा से बचाव, नशे से होने वाली हॉनियाॅ, संचारी व गैर संचारी रोगो के रोकथाम हेतु निःशुल्क परामर्श दिया जाना सुनिश्चित करें। उन्होंने जनपद के किसी एक महत्वपूर्ण कन्या इण्टर काॅलेज का चयन करते हुए सैनेटरी नैपकिन मशीन लगाने के निर्देश दिए। उन्होंने कार्यक्रम के अन्तर्गत दी जा रही साप्ताहिक आयरन फोलिक एसिड टैबलेट को स्कूलों में नियमित रूप से खिलाये जाने हेतु समय-समय पर अनश्रवण करते रहने के निर्देश मुख्य चिकित्साधिकारी को दिए।

बैठक में मुख्य चिकित्साधिकारी डाॅ.भारती राणा ने बताया कि राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन के अन्र्तगत जनपद नैनीताल में राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम का संचालन वर्ष 2015 से किया जा रहा है जिसके अंतर्गत जनपद नैनीताल के 10 से 19 वर्ष तक के शहरी और ग्रामीण क्षेत्रों के व्यक्ति चाहे वह लड़के या लडकी विवाहित हो या अविवाहित, गरीब हो या अमीर, स्कूली छात्र,छात्राएं हों या स्कूल छोड़ चुके हो एवं कमजोर वर्ग के किशोर व किशोरियों को शामिल किया गया है।उन्होंने बताया कि राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के संचालन हेतु जनपद में एक जिला कार्यक्रम अधिकारी एवं समस्त विकासखण्डों में 10 किशोर परामर्शदाता कार्य कर रहे है।

 

जनपद के बेस चिकित्सालय एवं राजकीय सुशीला तिवारी चिकित्सालय, हल्द्वानी में 1 पुरूष और 1 महिला परामर्शदाता कार्यरत है। किशोर व किशोरियों को निशुल्क परामर्श दिये जाने हेतु किशोर दोस्ताना स्वास्थ्य क्लीनिक जनपद नैनीताल के बेस चिकित्सालय, राजकीय सुशीला तिवारी चिकित्सालय हल्द्वानी एवं समस्त विकासखण्डों के मुख्य सामुदायिक एवं प्राथमिक स्वास्थ्य केन्द्रों में बनाये गये है। उन्होंने बताया कि माहवारी स्वच्छता कार्यक्रम के अन्र्तगत जनपद के पॉच दुर्गम विकासखण्डों (भीमताल, धारी, ओखलकाडा, रामगढ़ व बेतालधाट) में माह अक्टूबर 2018 से माह मई 2019 तक 47100 सैनेटरी नैपकिन पैकेट आशाओं के माध्यम से 6 रूपये प्रति पैकेट की दर से विक्रय किये जा चुके है।

बैठक में मुख्य विकास अधिकारी विनीत कुमार अपर मुख्य चिकित्साधिकारी डा. रश्मि पन्त, जिला कार्यक्रम अधिकारी अनुलेखा बिष्ट, मुख्य शिक्षा अधिकारी केके गुप्ता, जिला प्रोबेशन अधिकारी अंजना गुप्ता, जिला प्रोबेशन अधिकारी अंजना गुप्ता, डीपीआरओ अतुल प्रताप सिंह, राष्ट्रीय किशोर स्वास्थ्य कार्यक्रम के हेम जलाल, व राष्ट्रीय स्वास्थ्य मिशन से सूरज रावत, दीपक काण्डपाल, दीवान बिष्ट अनूप बमोला, पंकज तिवारी, बच्चन कालाकोटी आदि उपस्थित रहे ।