नई दिल्ली: क्रिकेट कही भी हो इसका बुखार चरम पर रहता है। आप किसी भी देश की बात करें क्रिकेट को हर वक्त धर्म की तरह पूजा जाता है। ये खेल है ही ऐसा जिसमे पूरे देश की भावनाएं जुड़ी होती है और केवल किस्मत वालों को अपने देश की जर्सी पहनने का मौका मिला है। पाकिस्तान में अपने चयन को लेकर परेशान अंडर-19 क्रिकेट खिलाड़ी ने अपनी जीवनलीला समाप्त कर दी।

अंडर19 क्रिकेट टीम में नहीं मिली जगह तो युवा क्रिकेटर ने कर ली आत्महत्या

मृतक खिलाड़ी का नाम मोहम्मद ज़ारयब है और वो पाकिस्तान क्रिकेट टीम के पूर्व खिलाड़ी आमिर हनीफ के बेटे है। युवा खिलाड़ी मोहम्मद ज़ारयब ने अपने क्रिकेटिंग करियर से निराश होकर आत्महत्या कर लिया। ज़ारयब पिछले महीने लाहौर में एक U-19 टूर्नामेंट में कराची की टीम में शामिल थे लेकिन उन्हें चोटिल बता कर टीम से बाहर कर दिया गया। इसके बाद वो काफी तनाव में चले गए और उन्हें अपनी जीवनलीला को समाप्त करना बेहतर समझा।

Image result for अंडर-19 खिलाड़ी ने की आत्महत्या

इस घटना के बाद ज़ारयब के दुखी पिता ने बताया कि उसकी चोट बहुत गंभीर नहीं थी लेकिन लेकिन टीम मैनेजमेंट ने साजिश के तहत  उसे बीच टूर्नामेंट में टीम से बाहर कर दिया जिसकी वजह से वह काफी परेशान और निराश हो गया।पाकिस्तान के लिए पांच वनडे मैच खेल चुके आमिर हनीफ ने ‘द एक्सप्रेस ट्रिब्यून’ से बात करते हुए कहा कि मेरे बेटे के साथ नाइंसाफी हुई है और उसे इंसाफ मिलनी चाहिए। उन्होंने  कहा कि जो मेरे बेटे के साथ हुआ वो किसी युवा के साथ ना हो। इससे क्रिकेट की तरफ अपना करियर बनाने का सपना देख रहे युवाओं को गलत समझ संदेश जाएगा। उन्होंने कहा मेरा बेटा अंडर-19 लेवल का खिलाड़ी था लेकिन उसने वो दवाब झेला जो शायद ही कोई झेलता हो। वह डिप्रेशन में चला गया। मैंने उसे समझाने की बहुत कोशिश भी की थी लेकिन वह नहीं समझा और इस तरह का कदम उठाया।