उत्तराखंड क्रिकेट: DM से लेनी होगी अनुमति, अभ्यास सत्र में 2 बल्लेबाज व 4 बॉलर ही हिस्सा लेंगे

हल्द्वानी: युवा खिलाड़ी जल्द मैदान पर दिखाई दे सकते हैं। उत्तराखंड में क्रिकेट गतिविधियों को दोबारा पटरी पर लाने के लिए तेजी से काम चल रहा है। इस संबंध में क्रिकेट एसोसिएशन ऑफ उत्तराखंड ने प्लान तैयार कर लिया है। इसके अलावा कोरोना वायरस को देखते हुए एसओपी बनाई गई है और सभी जिला इकाइयों को भेज दी गई है। खबरों की मानें को अक्टूबर में क्रिकेट को शुरू करने की कोशिश है।

यह भी पढ़ें: कमल के परिवार की मदद के लिए आगे आया हल्द्वानी, आप भी कर सकते हैं डोनेट

इस पूरे मामले पर सीएयू के सचिव महिम वर्मा का कहना है कि प्रदेश में क्रिकेट दोबारा शुरू करने पर मंथन चल रहा है। कोरोना संक्रमण की चुनौती को देखते हुए शुरुआत सामान्य शिविर से की जाएगी फिर स्थिति को देखते हुए अगला कदम उठाया जाएगा। हमें उम्मीद है कि क्रिकेट शिविर अक्टूबर के पहले हफ्ते से शुरू हो पाएगा। सभी जिलों में एसओपी का पालन कराने की जिम्मेदारी संबंधित एसोसिएशन की होगी। 

यह भी पढ़ें: उत्तराखंड: सवालों के घेरे में सुरक्षा व्यवस्था, चार कोरोना पॉजिटिव कैदी फरार

जिला संघों को क्रिकेट संबंधी किसी भी आयोजन के लिए डीएम और मुख्य चिकित्साधिकारी से अनुमति लेनी होगी। सभी जिला संघ चीफ मेडिकल ऑफिसर की नियुक्ति करें, जो कोविड-19 से बचाव के लिए आवश्यक प्रोटोकॉल और सुरक्षा उपायों का पालन कराएंगे। नेट प्रैक्टिस के दौरान एक सेशन में दो बल्लेबाज और चार गेंदबाज ही हिस्सा लेंगे। रोजाना अधिकतम 70 खिलाड़ी ही अभ्यास कर सकेंगे। शिविर में हिस्सा लेने से पहले खिलाड़ियों को आखिरी दो सप्ताह की ट्रेवल हिस्ट्री बतानी होगी।

खिलाड़ी शिविर या मैदान तक आने के लिए निजी वाहनों का इस्तेमाल करेंगे।जिला संघों को सुरक्षा उपकरण आदि की व्यवस्था करने के लिए 25 हजार रुपये की आर्थिक मदद दी जाएगी।60 साल से ज्यादा उम्र के स्टाफ को शिविर समेत किसी भी आयोजन में शामिल नहीं किया जाएगा। खिलाड़ियों को शपथ पत्र देना होगा कि वह एसओपी के सभी दिशा-निर्देशों का पालन करेंगे। शुरुआती चरण में छोटे ग्रुप में गतिविधियां होंगी। धीरे-धीरे ग्रुप का आकार बढ़ाया जाएगा। सुरक्षित शारीरिक दूरी का सख्ती से पालन करना होगा।

Join WhatsApp Group & Facebook Page

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा WhatsApp Group ज्वाइन करें।
Join Now

उत्तराखंड की ताजा खबरें मोबाइल पर प्राप्त करने के लिए अभी हमारा Facebook Page लाइक करें।
Like Now