शतक पुजारा ने लगाया लेकिन क्यों क्रिकेट जगत को याद आए राहुल द्रविड़ !

447

नई दिल्ली: भारतीय टीम गुरुवार की सुबह अपने सबसे बड़े अभियान की ओर चली। ऑस्ट्रेलिया दौरा भारत के लिए वर्चस्व की लड़ाई बनता जा रहा है। ऐसा इसलिए क्योंकि टीम अपने पिछले दो विदेशी दौरे हारी है। एडिलेट टेस्ट का पहला दिन भारतीय टीम के लिए बुरे सपने जैसा साबित हुआ। आधी टीम 100 रन से पहले पवेलियन लौट गई थी।

विश्व में अपने बल्लेबाजों का दम भरने वाली टीम इंडिया की हालात किसी क्लब जैसी लग रही थी। बल्लेबाजों का शॉर्ट सेलेक्शन देखकर ऐसा लग ही नहीं रहा था कि वो इस सीरीज़ के लिए तैयार हैं। टीम इंडिया 150 के पार जाने के लिए जूझ रही थी और एक बार फिर चेतेश्वर पुजारा ने टीम को संकट से उभारा।एडिलेड में ऑस्ट्रेलिया के खिलाफ पहले टेस्ट के पहले दिन शानदार शतक जमाकर टीम इंडिया को सम्मानजनक स्कोर तक पहुंचाया।

इस दौरान पुजारा ने अपने टेस्ट करियर का 16वां शतक पूरा किया और टेस्ट क्रिकेट में 5,000 रन का आंकड़ा भी पार किया।पुजारा ने 5,000 रन का आंकड़ा पार करने के लिए 108 पारियों का सहारा लिया। इस मामले में उन्होंने पूर्व महान बल्लेबाज राहुल द्रविड़ की बराबरी की। द वॉल के नाम से मशहूर राहुल द्रविड़ ने भी 108 पारियों में ही 5,000 रन का आंकड़ा पार किया था। द्रविड़ और पुजारा रन बनाने के आंकड़े ने गजब का कनेक्शन निकाला है।

यह कनेक्शन सिर्फ 5,000 रन का आंकड़ा पार करने पर ही नहीं देखने को मिला। इससे पहले दोनों बल्लेबाजों ने 67 पारियों में ही 3,000 रन व 84 पारियों में ही 4,000 रन का आंकड़ा भी पार किया था। पुजारा को मौजूदा समय में टीम इंडिया की दीवार कहा जाता है और उन्होंने हजार दर हजार रन पार करने के मामले में अपने गुरू राहुल द्रविड़ की बराबरी की।

दिन का खेल समाप्त होने तक टीम इंडिया ने 9 विकेट के नुकसान पर 250 रन हो गए हैं। बल्लेबाजी में पुजारा के 113 रनों के अलावा रोहित 37, ऋषभ पंत 25 और रवि अश्विन ने 25 रनों का योगदान दिया।

बता दें कि साउथ अफ्रीका में भारतीय टीम ने वनडे और टी-20 में कब्जा जमाया था लेकिन टेस्ट सीरीज में उसे हार का सामना करना पडा। वहीं इंग्लैंड में टीम इंडिया को वनडे और टेस्ट सीरीज में हार का सामना करना पड़ा।