मैदान पर वापस लौटी बागेश्वर एक्सप्रेस,बांग्लादेश में रफ्तार दिखाने को बेताब

नई दिल्ली: सोमवार को बांग्लादेश में नंवबर के महीने होने वाले EMERGING एशिया कप के लिए टीम इंडिया का ऐलान हो गया है। इस टीम में उस खिलाड़ी को भी स्थान दिया गया जिसकी रफ्तार ने क्रिकेट विशेषज्ञों को चौका दिया था। उन्हें ये बोलने पर मजबूर कर दिया था कि ये लड़का भारत के लिए खेलेगा। हम बात कर रहे हैं उत्तराखण्ड बागेश्वर निवासी व राजस्थान के लिए घरेलू क्रिकेट खेलने वाले कमलेश नगरकोटी की।

कमलेश नगरकोटी ने साल 2018 में हुए अंडर-19 विश्वकप में शानदार प्रदर्शन किया था। उनकी रफ्तार ने सभी को प्रभावित किया था। उन्होंने टीम को विजेता बनाने में मुख्य भूमिका निभाई थी। उन्होंने टूर्नामेंट में 9 विकेट लिए थे।

अच्छे प्रदर्शन का ईनाम उन्हें आईपीएल में मिला। आईपीएल-11 में उन्हें केकेआर ने 2 करोड़ रुपए में खरीदा था। जब लगा कि कमलेश यहां से भारतीय टीम का सफर तय करेगा तो चोट ने पूरी तरह से उनके क्रिकेट की दिशा बदल दी। कमलेश ने अपना आखिरी मुकाबले पिछले साल राजस्थान की तरफ से विजय हजारे ट्रॉफी में खेला था। आईपीएल के शुरू होने के बाद वो चोटिल हो गए थे। बेंगलूरु स्थित नेशनल क्रिकेट एकेडमी में वह अपना इलाज कर रहे थे। कमलेश को निचले हिस्से, एड़ी और टखने में चोट थी। कमलेश ने एक इंटरव्यू में कहा था कि चोट ने उन्हें नकारात्मक दिशा की ओर मोड़ दिया था। मेरे दोस्त बड़े लेवल की क्रिकेट खेल रहे थे और मैं अपना इलाज कर रहा हूं। उन्होंने ये भी बताया कि भारत के पूर्व कप्तान राहुल द्रविड़ ने उनकी इस दौर से निकलने में काफी मदद की थी।

EMERGING एशिया कप के लिये भारतीय टीम इस प्रकार है : विनायक गुप्ता, आर्यन जुयाल, बी.आर. शरथ (कप्तान और विकेटकीपर) चिन्मय सुतार, यश राठौड़, अरमान जाफर, संवीर सिंह, कमलेश नागरकोटी, ऋतिक शौकीन, एसए देसाई, अर्शदीप सिंह, एसआर दुबे, कुमार सूरज, पी.रेखाडे, कुलदीप यादव.

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः आदमखोर गुलदार ने झपट्टा मार मां की गोद से छीना बच्चा

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी लाइवः रिजॉर्ट में चल रही थी डांस पार्टी, 13 युवक-युवतियां गिरफ्तार

यह भी पढ़ेंः बारिश ने बिगाड़ा उत्तराखण्ड में विजय हजारे ट्रॉफी का रोमांच, अबतक 7 मुकाबले रद्द

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी में डेंगू मचा रहा कोहराम, डेंगू से महिला की मौत, अस्पताल में तोड़ा दम