कामयाबी: इंटरनेशनल क्रिकेट में अकेले पुरुषों के बीच में खड़ी भारत की मिताली

हल्द्वानी: मिताली राज भारतीय क्रिकेट में ऐसा नाम जिसने महिला क्रिकेट को एक ऊंचाई दी। अपनी कप्तानी में टीम का लोहा बनवाया। कई कीर्तिमान स्थापित किए और देश के लड़कियों को क्रिकेट खेलने के लिए प्रेरित किया। मिताली को महिला क्रिकेट टीम का सचिन कहा जाता है। अब भारत की पूर्व कप्तान ने नया रिकॉर्ड अपने नाम किया है।  मिताली 20 साल से अधिक समय तक अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट खेलने वाली पहली महिला क्रिकेटर बन गई। यह मुकाम हासिल करने वाली वह एकलौती महिला क्रिकेटर बन गई है।

मिताली राज ने 26 जून 1999 को आयरलैंड के खिलाफ वनडे करिय शुरू किया था। भारतीय महिला क्रिकेट टीम और दक्षिण अफ्रीका महिला क्रिकेट टीम के बीच खेली जा रही तीन मैचों की वनडे सीरीज का पहला मैच वडोदरा के रिलायंस स्टेडियम में खेला गया। उन्होंने 50 ओवरों के प्रारूप में 20 साल 105 दिन पूरे कर लिये हैं। वह दो दशक तक वनडे क्रिकेट खेलने वाली इकलौती महिला क्रिकेटर है।

File photo of Mithali Raj.(Getty Images

पुरूष क्रिकेटरों में भी ऐसे बहुत कम खिलाड़ी हैं जिनहोंने दो दशक तक क्रिकेट खेला हो। पुरूष क्रिकेटरों में भी 20 साल से अधिक क्रिकेट सिर्फ सचिन तेंदुलकर (22 साल 91 दिन), सनत जयसूर्या (21 साल 184 दिन) और जावेद मियांदाद (20 साल 272 दिन) ने खेला है। मिताली अभी तक 204 वनडे खेल चुकी है और यह रिकार्ड भी उनके नाम है। महिला खिलाड़ियों की बात करें तो इंग्लैंड की चार्लोट एडवडर्स (191), भारत की झूलन गोस्वामी (178) और ऑस्ट्रेलिया की एलेक्स ब्लैकवेल (144) के नाम उनके बाद है। मिताली ने भारत के लिये दस टेस्ट और 89 टी20 मैच भी खेले हैं। पिछले महीने उन्होंने टी20 क्रिकेट को अलविदा कह दिया था।

यह भी पढ़ेंः पहाड़ की बेटी ने किया ऐसा कमाल, की झूम उठा सारा बॉलीवुड

यह भी पढ़ेंः विजय हजारे: सिलेक्ट हुए खिलाड़ी का नाम काटा, उत्तराखण्ड क्रिकेट में तूफान के संकेत!

यह भी पढ़ेंः उत्तराखंडः पत्नी ने पति का किया कत्ल, लोगों ने महिला को घर में किया कैद

यह भी पढ़ेंः हल्द्वानी की बेटी ने किया शहर का नाम रोशन, जीता ब्यूटी खिताब