पहाड़ के लिए खुशखबरी, अल्मोड़ा के शाश्वत ने अंडर-19 विश्वकप टीम में बनाई जगह

हल्द्वानी: मेहनत कभी ना कभी कामयाबी का शोर जरूर मचाती है। वक्त जरूर लग सकता है लेकिन कामयाबी ज्यादा दिन तक परिश्रम से दूर नहीं रह सकती है। राज्य को मान्यता ना होने से दूसरे राज्य खेलने के लिए गए अल्मोड़ा के शाश्वत ने राज्य का नाम रोशन किया है। शाश्वत रावत साल 2020 में होने वाले अंडर-19 विश्वकप में जगह बनाने में कामयाब हुए हैं।

स्याल्दे ब्लाक के सदे गांव के रहने वाले शाश्वत का चयन अंडर-19 टीम में होने के बाद पूरे जिले में खुशी की लहर है। शाश्वत के पिता गोपाल सिंह रावत राप्रावि पत्थरखोला में शिक्षक हैं। वहीं मां डॉ नर्मदा रावत पृथ्वी राज डिग्री कॉलेज बाहदराबाद हरिद्वार में हिंदी की प्रोफेसर हैं। शाश्वत ने अपने खेल की शुरुआत हरिद्वार से की और फिर वो क्रिकेट के सपनों को जीने के लिए देहरादून स्थित महाराणा प्रताप स्पोर्ट्स कॉलेज चले गए और वहां कोच पवन पाल की निगरानी में प्रैक्टिस की।

बड़ोदरा के लिए इस सीजन (2018) डेब्यू करने वाले शाश्वत रावत ने अंडर-19 कूच बिहार ट्रॉफी की 16 पारियों में 616 रन बनाने के बाद वह सुर्खियों में रहने लगे। इस दौरान उन्होंने 5 फिफ्टी भी जमाई। इसके अलावा चैलेंजर ट्रॉफी में इंडिया रेड की ओर से खेलते हुए शाश्वत ने शानदार शतक जमाकर सुर्खियां  बटोरी थी। विश्वकप में चयन होने से पहले अफगानिस्तान के खिलाफ शाश्वत अच्छे टच में दिखाई दिए थे। इस वनडे सीरीज में उन्होंने एक फिफ्टी भी जमाई।

अंडर-19 क्रिकेट वर्ल्ड कप 2020 के लिए अखिल भारतीय जूनियर चयन समिति ने भारतीय टीम का ऐलान किया। यह विश्व कप 17 जनवरी से 9 फरवरी तक दक्षिण अफ्रीका में खेला जाएगा। विश्व कप के 13वें संस्करण में 16 टीमें हिस्सा लेंगी, जिसके चार ग्रुप होंगे। अंडर-19 वर्ल्ड कप में भारत अब तक सबसे ज्यादा 4 बार खिताब जीतने में सफल रहा है। टीम इंडिया ने 2018 में अंडर-19 वर्ल्ड कप का पिछला खिताब भी जीता था।तब फाइनल में उसने ऑस्ट्रेलिया को आठ विकेट से मात दी थी और पूरे टूर्नामेंट में अजेय रही थी। इस विश्वकप में उत्तराखण्ड के आर्यन जुयाल और कमलेश नगरकोटी भी टीम का हिस्सा रहे थे।

विश्व कप के लिए भारत की U-19 टीम: यशस्वी जायसवाल (मुंबई), तिलक वर्मा (हैदराबाद), दिव्यांश सक्सेना (मुंबई), प्रियम गर्ग (कप्तान- यूपी), ध्रुव चंद जुरेल (उपकप्तान और विकेट कीपर, यूपी), शाश्वत रावत (बड़ौदा), दिव्यांश जोशी (मिजोरम), शुभांग हेगड़े (कर्नाटत), रवि बिश्नोई (राजस्थान), आकाश सिंह (राजस्थान), कार्तिक त्यागी (यूपी), अथर्व अंकोलेकर (मुंबई), कुमार कुशाग्र (विकेट कीपर- झारखंड), सुशांत मिश्रा (झारखंड), विद्याधर पाटिल (कर्नाटक)।