सर्वश्रेठ रहा पहाड़ का बेटा मनीष, फाइनल में ऑस्ट्रेलिया को दिन में दिखाए तारे

हल्द्वानी: क्रिकेट में उत्तराखण्ड की शान और भारतीय वनडे टीम के सदस्य मनीष पांडे ने चतुष्कोणीय वनडे सीरीज में अपनी धमाकेदार बल्लेबाजी जारी रखते हुए आलोचकों का मुंह बंद किया है। मनीष पांडे ने ऑस्ट्रेलिया ए के खिलाफ फाइनल मुकाबले में शानदार 73 रनों की नाबाद पारी खेली। वहीं इस पूरी सीरीज़ में पांडे के आगे विपक्षी गेंदबाज पानी ही मांगते नजर आए। उन्होंने सीरीज में इंडिया बी की ओर से खेलते हुए पांच मैचों में 306 रन बनाए। खास बात यह रही कि चार मुकाबलों में मनीष नॉट ऑउट ही रहें।

इस प्रतियोगिता में ऑस्ट्रेलिया-ए, इंडिया-ए, साउथ अफ्रीका-ए और इंडिया-बी शामिल थी। मनीष पांडे का स्कोर कार्ड पूरी सीरीज में 73*,117*,21* और 95* रहा। मनीष पांडे अपने इस प्रदर्शन के बदौलत मैन ऑफ द सीरीज भी बनें। उन्होंने एक बार फिर साबित किया कि अगर उन्हें भारतीय टीम में नियमित मौके मिलते रहे तो वो भारतीय टीम के लिए भी इस तरह का प्रदर्शन करने का माद्दा रखते हैं। वहीं मनीष को विश्व क्रिकेट नॉट आउट मैन के रूप से भी जानता है।

फाइनल मुकाबले का हाल

फाइनल मुकाबले में ऑस्ट्रेलिया ए पहले बल्लेबाजी करते हुए 47.5 ओवर में 225 रन पर ढेर हो गई।  ओपनर डी आर्की शॉर्ट (72) और विकेटकीपर कैरे (53) ने अर्धशतक जमाए। कप्तान टिम हैड खाता भी नहीं खोल पाए। उस्मान ख्वाजा ने 23 व एश्टन एगर ने 17 रन का योगदान दिया। श्रेयस गोपाल ने तीन और सिद्धार्थ कौल, नितिन सैनी व दीपक हुड्डा ने 2-2 विकेट लिए। जवाब में भारत बी ने 36.3 ओवर में एक विकेट खोकर मंजिल हासिल कर ली। कप्तान मनीष पांडे, शुभमन गिल व मयंक अग्रवाल ने फिफ्टी लगाई। मनीष 73 व गिल 66 रन पर नाबाद लौटे, जबकि मयंक 69 रन पर आउट हुए। ईशान किशन ने 13 रन की पारी खेली। एगर ने एक विकेट लिया।