टी-20 लीग में जारी है हल्द्वानी के दीक्षांशु का धमाका, विरोधियों के छूट गए पसीने

416

हल्द्वानी: क्रिकेट और उत्तराखण्ड को ज्यादा वक्त तक दूर नहीं किया जा सकता है। वैसे भी राज्य में रणजी टीम के लिए हो रही चयन प्रक्रिया खबरों में है। क्रिकेट फैंस पहली उत्तराखण्ड की टीम को मैदान में उतरता देखने के लिए काफी उत्साहित हैं।

वहीं कर्नाटक प्रीमियर लीग में दीक्षांशु नेगी का शानदार प्रदर्शन खूब सुर्खियां बटोर रहा है। दीक्षांशु नेगी ने Mysuru Warriors के खिलाफ 33 गेंदों में 60 रनों की शानदार पारी खेली। अपनी इस पारी में नेगी ने 5 छक्के और तीन चौके भी लगाए लेकिन दुर्भाग्य से वो अपनी टीम Belagavi Panthers को जीत नहीं दिला सकें। इस मुकाबले को Mysuru Warriors ने 1 रन से अपने नाम किया।

मुकाबले की समरी

पहले बल्लेबाजी करने उतरी Mysuru Warriors ने निर्धारित 20 ओवर में 4 विकेट के नुकसान पर 201 रन बनाए। बल्लेबाजी में Mysuru Warriors के लिए शोएब मैनेजर 24 बॉलों में 56 रन बनाकर मूमेंटम Mysuru Warriors की तरफ कर दिया और टीम को विशाल लक्ष्य की ओर पहुंचा दिया। वहीं अमित वर्मा ने भी 22 गेंदों में 43 रनों की पारी खेली। वहीं Belagavi Panthers की ओर से अवनिश, शरद,सुभांग और प्रशांत को एक-एक विकेट मिला। लक्ष्य का पीछा करने उतरी Belagavi Panthers को मजबूत शुरूआत की जरूरत थी। पिछले मुकाबले में टीम को जीत दिलाने वाले हल्द्वानी लांठलाठ निवासी दीक्षांशु एक बार फिर टीम की नैया पार लगाने में जुट गए।

पहले विकेट के लिए स्टेलिन होवर और नेगी के बीच 74 रनों की साझेदारी ने मुकाबले में Belagavi Panthers का पलड़ा भारी कर दिया लेकिन Mysuru Warriors के गेंदबाजों ने अगले 50 रनों की भीतर Belagavi Panthers  के 5 बल्लेबाजों के पवेलियन भेज दिया। इसमें सबसे बड़ा विकेट दीक्षांशु का था , जिन्होंने मात्र 33 गेंदों में 60 रनों की पारी खेली। प्रतियोगिता में नेगी की यह लगातार दूसरी फिफ्टी है। Belagavi Panthers  के नीतिश (19 गेंदों में 44 रन) और अक्षय (9 गेंदों में 21 रन) पारी खेलकर टीम को जीत दिलाने की पूरी कोशिश की लेकिन Belagavi Panthers  एक रन से मुकाबला हार गई।