नई दिल्ली: फोगाट परिवार की बेटियां भारत के लिए वरदान है। गीता और बबीता के गोल्ड जीतने के बाद विनेश फोगाट ने भी गोल्ड पर कब्जा जमाकर देश का नाम रोशन किया है। बेटी की इस कामयाबी के बाद पूरा देश बोल रहा है, ये छोरी सच में छोरे से कम नहीं हैं।

https://twitter.com/MahabirPhogat/status/1031491584632795137

विनेश फोगाट के गोल्ड जीतने के बाद बड़े पिता महावीर ने भावुक पोस्ट कर उन्हें बधाई दी। आपकों ये भी बता दें कि महावीर सिंह ने विनेश के मुकाबले से पहले उन्हें कहा था कि गोल्ड जीती तो मिसाल बन जाएगी और मिसालें दी जाती है भुलायी नहीं जाती। अपने देश का झंडा सबसे ऊपर लेके जाना है। महावीर ने ट्वीट कर यह मैसेज विनेश को दिया था।

विनेश फोगाट जकार्ता में चल रहे एशियन गेम्‍स 2018 में 50 किग्रा भार वर्ग में देश को गोल्ड मेडल दिलाया है। विनेश को जैसे ही यह गोल्‍ड मिला, उनके कोच और सदस्‍य उन्‍हें देश का झंड़ा पहना कर कंधों पर उठा कर रिंग से बाहर लाए। बता दें कि  गीता फोगाट ने 2010 में हुए कॉमनवेल्‍थ खेलों में गोल्‍ड जीता था। जबकि वहीं उनकी छोटी बहन बबीता कुमार फोगाट ने 2014 में हुए कॉमनवेल्‍थ खेलों में कुश्‍ती में भारत को गोल्‍ड दिलाया था। लेकिन यह दोनों बहनें कभी एशियन खेलों में यह कारनामा नहीं दिखा पाई हैं।

2014 में हुए एशियन गेम्‍स में बबीता कुछ कमाल नहीं कर पाईं थीं। लेकिन गीता-बबीता की इस चचेरी बहन ने एशियन गेम्‍स में यह कमाल कर देश का नाम ऊंचा कर दिया है।दरअसल यह किसी भी महिला पहलवान का एशियन गेम्‍स में जीता गया पहला गोल्‍ड मैडल है। विनेश की इस कामयाबी के बाद पूरा देश जश्न बना रहा है। सोशल मीडिया पर उन्हें बधाई दी जा रही है। उनकी बहन गीता और बबीता ने उन्हें ट्विट कर इस जीत की बधाई दी।