इस बल्लेबाज का क्या कहना, एक बार फिर ऋषभ पंत ने लगाई दिल्ली की नैया पार

नई दिल्ली: आईपीएल सीजन-12 अंतिम पड़ाव पर पहुंच गया है। एलिमिनेटर मुकाबले में दिल्ली कैपिटल्स ने सनराइजर्स हैदराबाद को दो विकेट से हराकर साल 2012 के बाद फाइनल में पहुंचने की उम्मीदों का कायम रखा है। वहीं यह पहला मौका है जब दिल्ली की टीम प्लेऑफ में पहुंची है। इस टीम के नाम के बदलाव के साथ किस्मत भी बदली है। बुधवार को खेले गए मुकाबले में दिल्ली की नैया ऋषभ पंत ने पार लगाई। पंत ने 21 गेदों में 49 रनों की पारी खेली। उनकी इस पारी में 5 छक्के और 2 चौके शामिल थे।

टॉस हारकर पहले बल्लेबाजी करने उतरी सनराइजर्स हैदराबाद की टीम ने निर्धारित 20 ओवरों में 8 विकेट के नुकसान पर 162 रन बनाए। बल्लेबाजी में सनराइजर्स हैदराबाद की ओर से सबसे ज्यादा मार्टिन गप्टिल ने 36 रन बनाए। इसके अलावा मनीष पांडे ने 30,केन विलियमसन 28, विजय शंकर 25 और मोहम्मद नबी ने 20 रनों का योगदान दिया। मध्य ओवरों में धीमी बल्लेबाजी के कारण सनराइजर्स हैदराबाद की टीम बड़ा स्कोर खड़ा करने में कामयाब नहीं हो पाई। दिल्ली की ओर से गेंदबाजी में किमो पॉल ने 3 और इशांत शर्मा ने 2 विकेट हासिल किए।

लक्ष्य का पीछा करने उतरी दिल्ली की शुरुआत शानदार रही। पहले 7.3 ओवर्स में शिखर धवन और पृथ्वी शॉ ने 66 रन जोड़े। धवन 17 रन बनाकर आउट हुए लेकिन पृथ्वी ने अपनी तेज बल्लेबाजी जारी रखी और फिफ्टी जमाई। जब लगा की दिल्ली इस मुकाबले में अपनी पकड़ बना रहा है इसी वक्त 10 ओवर में खलील अहमद ने शॉ (56) और श्रैयस अय्यर (17) को पवेलियन भेजकर मुकाबले में रोमांच पैदा कर दिया।

इसके बाद अक्षर पटेल भी शून्य पर आउट हो गए। दिल्ली को अगले दौर में पहुंचाने की जिम्मेदारी ऋषभ पंत ने उठाई और अपने ही अंदाज में बल्लेबाजी कर टीम को जीत के करीब पहुंचा दिया। पंत के अलावा कॉलिन मुनरो ने 17 रनों की अहम पारी खेली। पंत 49 रन बनाकर आउट जरूर हो गए लेकिन तब तक दिल्ली जीत के करीब पहुंच गई थी और किमो पॉल से शानदार चौका जड़ टीम को अगले दौर पर प्रवेश करवा दिया।