मुकाबले के पहले दिन ही उत्तराखण्ड ने डाले हथियार, 90 रन पर पूरी टीम आउट

हल्द्वानी: रणजी ट्रॉफी के पांचवे मुकाबले में भी उत्तराखण्ड के बल्लेबाज अपनी खराब फॉर्म से पार पाने में नाकाम रहे । त्रिपुरा के खिलाफ उत्तराखण्ड केवल 90 रनों पर ऑल आउट हो गई। टीम के खराब प्रदर्शन ने फैंस को एक बार फिर मायूस किया है। त्रिपुरा ने टॉस जीतकर पहले गेंदबाजी का फैसला किया जो सही साबित हुआ। उत्तराखण्ड को पहला झटका 16 रन पर लगा। आर्या सेठी केवल 6 रन बनाकर पवेलियन लौट गए। इसके बाद उत्तराखण्ड को लगातार झटके लगते रहे और टीम एक बार फिर 100 से पहले ऑल आउट हो गई। उत्तराखण्ड की ओर से बल्लेबाजी में सबसे ज्यादा उन्मुक्त चंद ने 26 बन बनाए। इसके अलावा मयंक मिश्रा ने 24 रनों की पारी खेली। उत्तराखण्ड के 9 बल्लेबाज दहाई का आंकड़ा भी पार नहीं कर पाए। त्रिपुरा की ओर से एमबी मुरा सिंह और एस सरकार ने 4-4 विकेट अपनी झोली में डाले। उत्तराखण्ड की टीम केवल 45 ओवर बल्लेबाजी कर सकी।

गेंदबाजों के शानदार प्रदर्शन के बाद बल्लेबाजी करने उतरी त्रिपुरा की शुरुआत भी खराब रही। पहले ही ओवर में प्रदीप चमोली ने बिक्रम कुमार दास को शून्य पर पवेलियन भेज दिया। इसके बाद एम सिंहगा 29 रिटायर हर्ट, मिश्रा 21, आरए डे 27* और हरमीत सिंह के नाबाद 22 रनों की बदौलत दिन का खेल खत्म होने तक असम ने दो विकेट के नुकसान पर 104 रन बना दिए। उसने उत्तराखण्ड पर 14 रनों की बढ़त हासिल कर दी है। उत्तराखण्ड की मौजूदा फॉर्म और मुकाबले के पहले दिन को देखते हुए साफ है कि उत्तराखण्ड को कोई चमत्कार ही इस मुकाबले में हार से बचा सकता है। इसके लिए गेंदबाजों को दूसरी दिन त्रिपुरा को सस्ते पर ऑल आउट करना होगा और बल्लेबाजों को बड़ा स्कोर करना होगा।